जियो के बाजार में उतरने से उपभोक्ताओं ने सालाना बचाए 10 अरब डॉलर

0
99

रिलायंस जियो के सितंबर 2016 में भारतीय बाजार में प्रवेश करने और कम कीमत पर सेवाएं देने से उपभोक्ताओं को सालाना 10 अरब डॉलर की बचत हुई है। यही नहीं इससे देश का प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 5.65 प्रतिशत बढ़ा है। एक रिपोर्ट में यह निष्कर्ष निकाला गया है। इंस्टिट्यूट आफ कम्पेटिटिवनेस (आईएफसी) की रिपोर्ट में कहा गया है ‎कि हमारी गणना के अनुसार अगर बहुत कम कर भी आकलन किया जाए, जियो के प्रवेश से उपभाक्ताओं को सालाना 10 अरब डॉलर की बचत हुई है। इसमें कहा गया है कि अर्थमितीय विश्लेषण से पता चलता है कि यदि अन्य चीजें स्थिर रहती हैं, तो व्यापक नेटवर्क की वजह से जियो के प्रवेश ने देश के सकल घरेलू उत्पाद में 5.65 प्रतिशत का योगदान दिया है। आईएफसी ने जियो के प्रवेश का आकलन आर्थिक वृद्धि में इंटरनेट की पहुंच के आधार पर किया है। इस मॉडल में 2004-14 से 18 राज्यों के आंकड़ों का इस्तेमाल किया गया है। इसके अनुसार यदि अन्य चीजें स्थिर रहती हैं और इंटरनेट की पहुंच 10 प्रतिशत बढ़ती है तो इससे प्रति व्यक्ति जीडीपी 9 प्रतिशत बढ़ेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here