तीन दिनी गिरावट से उबरा शेयर बाजार

0
160
सेंसेक्स 141 अंक चढ़कर 33,845 पर बंद
निफ्टी 37.5 अंक उछलकर 10,397 पर बंद
वैश्विक बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच डॉलर के मुकाबले रुपये में जारी गिरावट के थमने के साथ साथ स्थानीय स्तर पर आईटी, एफएमसीजी और पीएसयू बैंक शेयरों में हुई खरीदारी से घरेलू बाजार तीन दिनी गिरावट को तोड़ता हुए बढ़त के साथ बंद हुआ। बुधवार को कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स 141 अंकों की तेजी के साथ 33,845 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 37.05 अंकों की तेजी के साथ 10,397 पर बंद हुआ। प्रमुख सूचकांक के विपरीत बीएसई के मिडकैप सूचकांक और स्मॉलकैप सूचकांक में गिरावट रही। बीएसई का मिडकैप 8.05 अंकों की गिरावट के साथ 16,411 पर बंद हुआ जबकि स्मॉलकैप 31 अंकों की गिरावट के साथ 17,800 पर बंद हुआ।
एशियाई बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू बाजार की शुरुआत भी तेजी के साथ हुई। सेंसेक्स सुबह 110 अंकों की तेजी के साथ 33,814 पर खुला। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 33,911 के ऊपरी और 33,702.50 के निचले स्तर को छुआ। इसी तरह निफ्टी सुबह 66 अंकों की तेजी के साथ 10,426 पर खुला। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,426 के ऊपरी और 10,350 के निचले स्तर को छुआ।
बुधवार को बीएसई में कुल 2,870 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें से 1,730 तेजी में, 1,592 गिरावट में और शेष 148 के शेयरों की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ। बाजार विशेषज्ञों का कहना है कि सॉफ्टवेयर सेवा प्रदाता कंपनियों के संगठन नासकॉम ने जारी अपनी रिपोर्ट में वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान इस क्षेत्र का निर्यात 137 अरब डॉलर होने का अनुमान व्यक्त किया था। नासकॉम की सकारात्मक रिपोर्ट से निवेशकों का मनोबल बढ़ा।