फूटे टैंकर, बह जाता हैं हज़ारों लीटर पानी, फिर भी वसूले जाते हैं पूरे दाम

0
96
राजधानी भोपाल सहित पूरे प्रदेश में भीषण गर्मी का कहर बना हुआ हैं, भोपाल में पारा लगातार 42°- 43° के पास बना हुआ हैं।
फूटे टैंकर, बह जाता हैं हज़ारों लीटर पानी, फिर भी वसूले जाते हैं पूरे दाम।
राजधानी भोपाल सहित पूरे प्रदेश में भीषण गर्मी का कहर बना हुआ हैं, भोपाल में पारा लगातार 42°- 43° के पास बना हुआ हैं। जिसके चलते पूरे प्रदेश में पानी की किल्लत होती दिख रही हैं। बड़े तालाब का जल स्तर भी लगातार काम हो रहा हैं, आपको बता दे कि बड़े तालाब का जल स्तर करीब 15 फ़ीट तक गिर चुका हैं । इसके साथ ही कई नदिया, डैम और छोटी झील भी सुखने की कगार पर हैं। यहाँ तक तो कई जगहों पर यह हाल है कि लोग गंदा पानी पीने को मजबूर हैं। ऐसे में आम आदमी के साथ प्रशासन का फर्ज बनता हैं कि पानी को बचाया जाए। तथा यह प्रशासन के लिए एक बड़ी चुनोती भी हैं, लेकिन सड़को पर ऐसे टूटे फूटे टैंकर देखकर जान जल जाती हैं।
जी हाँ कई कालोनियां और वार्ड ऐसे हैं जहाँ अक्सर गर्मियों में पानी की किल्लत होती हैं, और पानी को एक दिन बीच सिर्फ एक घंटे के लिए दिया जाता है जिसके चलते घरों में पानी की कमी नज़र आती हैं। ऐसे में आम आदमी अपने घरों में टैंकर डलवाने को मजबूर हैं। आपको बता दे कि एक टैंकर में करीब पाँच हज़ार लीटर पानी की क्षमता होती हैं जिसमे से करीब एक-दो हज़ार लीटर पानी सड़क पर ही बह जाता हैं, ऐसे में अगर देखा जाए तो टैंकर में तीन हज़ार या उससे ज़्यादा पानी रेह जाता हैं जोकि हमारे पास पहुँचता हैं। लेकिन हम से पाँच हज़ार लीटर यही पूरे पानी के पैसे वसूले जाता हैं जोकि सरासर गलत हैं। प्रशासन को इस पर फ़ौरन कार्रवाई करनी चाहिए ताकि आने वाले दिनों में रहवासियों को इस तरह की कोई परेशानी ना हो। और पानी को बचाने की हर मुमकिन कोशिश करनी चाहिए।
खाईद जौहर ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here