शहरयार के शेर के सहारे वायु प्रदूषण को लेकर मोदी पर साधा निशाना

0
302
(नई दिल्ली) शहरयार के शेर के सहारे वायु प्रदूषण को लेकर मोदी पर साधा निशाना

(नई दिल्ली) शहरयार के शेर के सहारे वायु प्रदूषण को लेकर मोदी पर साधा निशाना
। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गमन फिल्म में शहरयार की गजल का जिक्र करते हुए राजधानी एवं आसपास फैले वायु प्रदूषण के कारण आम आदमी को हो रही परेशानियों का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर परोक्ष रूप से निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘‘सीने में जलन, आँखों में तूफ़ान सा क्यों है/ इस शहर में हर शख्स परेशान सा क्यों है/क्या बताएंगे साहेब, सब जानकार अंजान क्यों है?’’ दिल्ली एवं आसपास के क्षेत्रों में पिछले कुछ दिनों वायु प्रदूषण का स्तर इतना बढ़ गया है कि वह सभी वर्गों के लिए एक भारी परेशानी का कारण बन गया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष पिछले कुछ समय से प्रधानमंत्री मोदी और उनकी सरकार पर निशाना साधने के लिए शेरो-शायरी का सहारा ले रहे हैं।
इस पहले कई बार तत्कालीन मुद्दों को लेकर राहुल गांधी पीएम मोदी और बीजेपी शासित केंद्र सरकार पर निशाना साधते रहे हैं. इससे पहले 12 नवंबर को राहुल ने गुजरात में चुनावी रैली के दौरान केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि गुजरात के लोगों के दवाब में केंद्र सरकार ने जीएसटी की दरें कम की है. साथ ही उन्होंने जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स का नाम दिया था. राहुल ने कहा था कि भारत को गब्बर सिंह टैक्स नहीं, सरल GST चाहिए. कांग्रेस और देश की जनता ने लड़कर कई वस्तुओं पर 28% टैक्स ख़त्म करवाया है. राहुल ने कहा था कि 18% कैप के साथ एक रेट के लिए हमारा संघर्ष जारी रहेगा. अगर बीजेपी ये काम नहीं करेगी, तो कांग्रेस करके दिखाएगी.

बता दें कि दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई करने वाला है. इस मुद्दे पर सीजेआई दीपक मिश्रा की खंड़पीठ सुनवाई करेगी. वकील आरके कपूर ने दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर कहा है कि सुप्रीम कोर्ट दिल्ली सरकार को आदेश दे कि ऑड-इवन फॉर्मूला पर पुनर्विचार करे. साथ ही सुप्रीम कोर्ट केंद्र सरकार को आदेश दें कि हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में क्रॉप बर्निंग की जगह उनके दूसरे काम में इस्तेमाल के लिए प्रोजेक्ट बनाये ताकि किसान पराली न जलाए. वहीं दिल्ली में वायु प्रदूषण और ऑड-ईवन के मुद्दे पर सुनवाई करते हुए एनजीटी ने अभी तक पुनर्विचार याचिका नहीं दाखिल करने के चलते दिल्ली की केजरीवाल सरकार को जमकर फटकार लगाई है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here