70वीं एशेज में जीत के इरादे से उतरेगी ऑस्ट्रेलिया

1
215

 70वीं एशेज में जीत के इरादे से उतरेगी ऑस्ट्रेलिया

“ब्रिस्बेन”
। गुरुवार से यहां ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच 70 वीं एशेज सीरीज शुरु होगी। अपने तेज गेंदबाजों के दम पर ऑस्ट्रेलियाई टीम गाबा पर पहले एशेज टेस्ट में जीत के इरादे से खिलाफ उतरेगी। कंगारू टीम अपने तेज गेंदबाजी आक्रमण के बाल पर जीत दर्ज करना चाहेगी।
ऑस्ट्रेलियाई चयनकर्ताओं को उम्मीद है कि मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड और पैट कमिंस उस सफलता को दोहरा सकेंगे, जो यहां 2013 में मिशेल जॉनसन को मिली थी। वहीं दूसरी ओर इंग्लैंड के बल्लेबाजी क्रम के पास अधिक अनुभव नहीं है। एशेज की उसकी तैयारियों को करारा झटका तब लगा, जब स्टार हरफनमौला बेन स्टोक्स निलंबित हो गए। ऑस्ट्रेलिया का गाबा पर रिकॉर्ड भी काफी बेहतर रहा है, जहां 1988 से उसने कोई टेस्ट नहीं गंवाया है। वहीं दूसरी ओर इंग्लैंड 31 साल से यहां टेस्ट नहीं जीत सका है।
वॉर्नर ने जंग करार दिया
ऑस्ट्रेलियाई उपकप्तान डेविड वॉर्नर ने इसे जंग करार देते हुए कहा कि उनकी टीम इंग्लैंड के कुछ क्रिकेटरों का करियर खत्म करना चाहेगी।उन्होंने चार साल पहले जॉनसन के कातिलाना प्रदर्शन का भी जिक्र किया, जब उसने ब्रिस्बेन में नौ विकेट लिये थे। ऑस्ट्रेलिया ने पहला टेस्ट 381 रन से और सीरीज 5-0 से जीती थी।
वहीं स्टार्क की अगुवाई में तीनों तेज गेंदबाजों ने टेस्ट में कभी एक साल गेंदबाजी नहीं की है, लेकिन उनका मिलकर स्ट्राइक रेट अपने पूर्व तेज गेंदबाजों से बेहतर है। स्टार्क के निशाने पर इंग्लैंड के दो बड़े बल्लेबाज कप्तान जो रूट और पूर्व कप्तान एलेस्टेयर कुक होंगे।
स्टोक्स ने किया पलटवारी
स्टोक्स ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन के बयान पर पलटवार किया है। हेडन ने हाल ही में कहा था कि वह इंग्लैंड के अनुभवहीन मध्यक्रम से प्रभावित नहीं हैं। इंग्लैंड के मध्यक्रम में मार्क स्टोनमैन, जेम्स विंसे और डेविड मलान हैं। इस टीम में बस खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। मैंने आधी टीम देखी, लेकिन ईमानदारी से कहूं, तो मैं इस टीम के आधे खिलाड़ियों को भी नहीं जानता। उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के पास स्टुअर्ट ब्रॉड, जेम्स एंडरसन, जैसे अनुभवी तेज गेंदबाज हैं। उनके पास एलिस्टर कुक और जोए रूट जैसे दो अच्छे बल्लेबाज भी हैं। हेडन ने कहा, ‘इनके अलावा पूरी टीम को कोई नहीं जानता कि वह क्या है.’ हेडन के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए स्टोक्स ने कहा, ‘हेडन ने कहा कि वह इंग्लैंड की आधी टीम को नहीं जानते। टीम में से सिर्फ दो खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेला है। वो वाकई में क्रिकेट पंडित हैं?
गाबा में 1988 से एक भी टेस्ट नहीं हारे कंगारु
ऑस्ट्रेलिया ने गाबा में 1988 से एक भी टेस्ट नहीं गंवाया है। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच यह 70वीं एशेज सीरीज है।
69 में से ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ने 32-32 सीरीज जीती हैं। ऑस्ट्रेलिया में खेली गई 34 सीरीज में से मेजबान ने 18, जबकि इंग्लैंड ने 14 सीरीज जीती। पिछली 5 सीरीज में इंग्लैंड ने 4 सीरीज पर कब्जा किया, जबकि ऑस्ट्रेलिया को एक ही सीरीज (2013-14) में जीत मिली।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here