भगवान के नाम पे तो चिल्लर मिलती है, नेता के नाम पर की दो करोड़ रुपयों की ठगी।

0
50
A man cheated two crore rupees in the name of Home Minis
भगवान के नाम पे तो चिल्लर मिलती है, नेता के नाम पर की दो करोड़ रुपयों की ठगी।

लूटपाट, चोरी, छीना झपटी तक तो ठीक था मगर ये बड़े बड़े पॉलिटीशियन  के नाम पर ठगी करना कहा लाजमी है।

दरअसल भारत के गृहमंत्री अमित शाह के नाम पर एक आदमी ने दो करोड़ रुपए की ठगी की

और खास बात तो ये थी कि ठगी करने वाला भी बीजेपी का ही नेता था।

मगर फिर कानून के हाथ लंबे हुए और आरोपित नेता और उसके बेटे के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।

दरअसल ये ठगी का आरोप बीजेपी के नेता और रेलवे पैसेंजर सर्विस कमेटी के चैयरमैन और और उनके बेटों पर लगा है

की उन्होंने गृहमंत्री अमित शाह के नाम पर 2 करोड़ की है।

जानकारी के लिए बता दें कि ये आरोप मुंबई के एक होटल कारोबारी ने लगाया कि बीजेपी नेता (Ramesh Chandra Ratna) रमेश चन्द्र रत्न

और उनके बेटे बृजेश रत्न ने रेलवे के अलावा कई और प्रोजेक्ट दिलवाने के नाम पर उनसे 100 करोड़ की डील की

और 2 करोड़ रुपये एडवांस ले लिए , फिर बाद में कारोबारी का खबर लगी की ठगी हो गई।

मगर बेचारा करे भी तो क्या ठगी तो हो गई इसलिए उसने कानून का दरवाजा खटखटाया।

बीजेपी नेता बनकर की ठगी

शिकायतकर्ता के अनुसार वो होटल का कारोबार करता है साथ ही उसकी मनसा रेलवे में काम करने की भी थी।

मगर उसे नहीं पता था कि उसके सपनों की आंच पर कोई और रोटियां सेंक रहा था।

इसी सिलसिले में उसने क्रमवार गुजरात के रहने वाले राहुल शाह और अनीस बंसल से मुलाकात की फिर दोनों ने

इसी साल 27 मार्च को ब्रजेश रत्न से मिलने के लिए लुटियन दिल्ली के कुशक रोड के इस बंगले पर बुलाया.

बताया गया कि ब्रजेश के पिता रमेश चन्द्र रत्न बीजेपी नेता है और रेलवे बोर्ड के चैयरमैन हैं

और फिर अपनी चिकनी चुपड़ी बातों का मक्खन लगा लगा के दो करोड़ हथिया लिए।

ये भी कहा गया कि इनका गृह मंत्री अमित शाह और उनके बेटे के साथ रोज का उठना बैठना है.

कैसे लूटा

ब्रजेश रत्न ने 28 मार्च को रेलवे के 28 प्रोजेक्ट दिलवाने के नाम पर 100 करोड़ की डील की

और टोकन मनी के तौर पर राहुल शाह और अनीस बंसल ने 2 करोड़ रुपये एडवांस ले लिए और

कहा की वो आज रात ही उसकी बात अमित शाह करवाने वाले  है.

लेकिन कहानी में नया ट्विस्ट आया जब शिकायतकर्ता को अपने एक जानकर से पता चला कि रमेश चंद्र रत्न रेलवे बोर्ड के चेयरमैन नहीं है.

फिर क्या था हवा में बाल उड़े या ना उड़े मगर दो करोड़ की लूट की खबर से होश जरूर उड़ जायेंगे।

जब उन्होंने राहुल शाह और अनीस बंसल से उनके पैसे लौटने को कहा तो दोनों काफी दिन तक आना कानी करने लगे.

अब चोर थोड़ी बोलेगा की चोरी उसने की मगर की तो चोर ने ही।

चूंकि पैसे अमित शाह के नाम पर लिए गए थे इसलिए शिकायतकर्ता खुद अमित शाह से मिलने पहुंच गए

और उनके स्टाफ को पूरी बात बताई, जिसके बाद अमित शाह के आदेश पर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल

ने एफआईआर दर्ज कर ली. फिलहाल मामले को जांच जारी है।