क्या तुम है सैनिटरी नैपकिन चाहिए या कंडोम: हरजोत कौर भामरा

0
47
Do you want sanitary napkins or condoms: Harjot Kaur Bhamra
Do you want sanitary napkins or condoms: Harjot Kaur Bhamra

राष्ट्रीय महिला आयोग (National Commission for Women) ने एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी से, सस्ते सेनेटरी नैपकिन के बारे में पूछने वाली एक छात्रा पर (girl student) उनकी “अनुचित और बेहद आपत्तिजनक” टिप्पणी को लेकर स्पष्टीकरण मांगा है।

जब बिहार की छात्रा ने पूछा कि सरकार सेनेटरी पैड क्यों नहीं दे सकती, तो आईएएस अधिकारी हरजोत कौर भामरा ने जवाब दिया कि कल, आप परिवार नियोजन की आयु प्राप्त कर लेंगी और आप उम्मीद करेंगी कि सरकार ‘निरोध’ (कंडोम) भी प्रदान करे।

एनसीडब्ल्यू के मुताबिक, उसने पाया है कि एक जिम्मेदार पद पर बैठे शख्स का ऐसा “असंवेदनशील रवैया” निंदनीय और बेहद शर्मनाक था। महिला आयोग ने एक बयान में कहा कि एनसीडब्ल्यू ने इस मामले पर संज्ञान लिया है। अध्यक्ष रेखा शर्मा ने आईएएस हरजोत कौर भामरा को पत्र लिखकर उनकी अनुचित और बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी के लिये स्पष्टीकरण मांगा है।

छात्रा ने कहा

आईएएस अधिकारी से सवाल पूछने वाली छात्रा रिया कुमारी ने कहा कि-“मेरा सवाल सैनिटरी पैड को लेकर था जो कोई गलत नहीं था. ये कोई बड़ी चीज नहीं हैं, मैं खरीद सकती हूं, लेकिन कई लड़कियां जो झुग्गी-झोपड़ियों में रहती हैं और वे उन्हें वहन नहीं कर सकती हैं. इसलिए, मैंने सिर्फ अपने लिए ही नहीं बल्कि सभी लड़कियों के लिए सवाल पूछा था. हम वहां अपनी चिंता रखने के लिए गए थे

हरजोत कौर ने कहा

आईएएस अधिकारी हरजोत कौर भामरा ने पटना की इस घटना, जहां उन्होंने एक स्कूली छात्रा से सैनिटरी नैपकिन के सवाल के बदले पूछा था कि “क्या उसे सैनिटरी नैपकिन चाहिए या कंडोम चाहिए.”

सोशल मीडिया पर इस बयान से जुड़ा वीडियो वायरल होने के बाद महिला आयोग ने संज्ञान लिया और हरजोत कौर से स्पष्टीकरण मांगा, जिस पर हरजोत कौर ने लिखित तौर पर माफी मांगी और कहा कि- अगर मेरी बातों से किसी लड़की की भावनाओं को ठेस पहुंची हो तो मैं खेद प्रकट करती हूं. मेरा इरादा किसी को अपमानित करने या किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था.

कौर पटना में आयोजित एक कार्यक्रम में स्कूली छात्राओं के सवालों का जवाब दे रही थीं. एक छात्रा ने उनसे फ्री सैनिटरी पैड उपलब्ध कराए जाने को लेकर सवाल पूछा था. हरजोत कौर ने छात्रा के सवाल का जवाब देते हुए कहा- “आप लोगों की इस मांग का कोई अंत है? 20 और 30 रुपये का पैड भी दे सकते हैं. कल को जींस पैंट भी दे सकते हैं. परसों कहेंगे कि जूते क्यों नहीं दे सकते हैं? अंत में जब परिवार नियोजन की बात आएगी तो कंडोम भी मुफ्त में देना पड़ेगा.”

हरजोत ने छात्रा से कहा-“तो, पाकिस्तान चली जाओ”

हरजोत कौर ने आगे कहा- ये जो सोच है कि-“सरकार 20 रुपये या 30 रुपये नहीं दे सकती, ये गलत है.” सरकार बहुत कुछ दे रही है. जब छात्रा ने कहा कि सरकार वोट लेने के लिए आती है इस पर हरजोत कौर ने कहा कि-“मत दो तुम वोट. पाकिस्तान चली जाओ.”

हरजोत कौर के पाकिस्तान वाले बयान पर छात्रा ने कहा कि “मैं भारतीय हूं. मैं पाकिस्तान क्यों जाऊं? “

सीएम नीतीश ने लिया संज्ञान

आईएएस अधिकारी हरजोत कौर के बयान पर सीएम नीतीश कुमार ने भी संज्ञान लिया और कहा- “हरजोत कौर ने ऐसा कुछ बोल दिया है जिससे महिलाओं, छात्राओं को बुरा लगा है. मैंने मामले की पूरी जानकारी ली है. अगर कुछ भी गलत होगा तो कार्रवाई की जाएगी. इस पर हमारी नजर है.