बच्चों को बिना वैक्सीन लगे, omicron के वायरस से कैसे बचाव करें, आइये जाने खास टिप्स।

0
93
How to protect children from omicron virus without vaccine, let's know special tips.
The new virus omicron can be more dangerous than before, due to which the sleep and day chain of the parents of the children have been lost, because till now there has been no news of vaccination in children, this is also the biggest reason.

नए वायरस ने आकर पूरे देश मे हड़कंप मचा दिया है लोगों का मानना है

कि यह नया वायरस omicron पहले से भी ज्यादा खतरनाक हो सकता है जिस कारण बच्चों के पेरेंट्स  की रातों की नींद

और दिन का चेन खो गया है, क्योंकि अभी तक बच्चों में वैक्सीन लगने की कोई खबर भी नहीं आई है

यह भी सबसे बड़ा मुख्य कारण है कि इस बार बच्चों को लेकर हर कोई डर रहा है।

ऐसे हालत में बच्चों को सुरक्षित रखना सबसे ज्यादा जरूरी है हालांकि कई विशेषज्ञों का कहना है

जो लोग 18 साल के ऊपर के लोग जिनको दोनों डोस लग चुके है उन्हें भी सावधानी बरतनी होगी

क्योंकि 18 साल से नीचे बच्चों की वैक्सीन ना लगने की वजह से बच्चों के प्रति जागरूक होना बहुत जरूरी है

ऐसे में कुछ विशेषज्ञों ने इस चुनौती भरे मुश्किल में बच्चों के प्रति क्या सावधानी होनी चाहिए

उनके टिप्स हम आप तक लेकर आये है तो आइए जाने खास टिप्स।

How to protect children from omicron virus without vaccine.

बच्चों को इस संक्रमित से कैसे बचाएं

1) इस बात को निश्चित करलें कि सार्वजनिक क्षेत्र में ना जाएं और ना अपने बच्चों को ले जावें ।

2) यदि घर के बड़े लोग जा रहे है घर से बाहर तो मास्क पहनकर ही जाएं ।

क्योंकि बच्चों के माता पिता को वैक्सीन  लग चुकी है

लेकिन बच्चों को अभी तक नहि लगी इस बात को समझने की कोशिश करे ।

3) यदि बहार से घर को आते है तो इस बात का ख्याल रखें कि बच्चों के पास बिना हाथ पैर धोए ना छुएं

और यही आदर अपने बच्चों में डालें कि बिना कुछ छुएं नियमित रूप से अच्छी तरह हाथ धो पाएं।

4) यह स्लोगन पहले दिन से चला आ रहा है कि “मास्क है ज़रूरी और 2 गज की दूरी”

इस स्लोगन को बरकरार रखने की जिम्मेदारी हम सबकी होनी चाहिए।

5) अपने बच्चों की इम्युनिटी मजबूत करने के लिए पोष्टिक आहार खिलाएं। और कोशिश करें ज्यादा बाहर जाने ना दें।

6)घर मे किसी को सर्दी जुकाम हो तो उसे मास्क पहने के लिए कहे और साथ ही बच्चों से थोड़ी दूरी बनाए रखें।

आखिर कब तक बच्चों की वेक्सीन आएगी ? क्या इस नए वेरियंट के बाद भी स्कूल जारी रखेंगे।

How to protect children from omicron virus without vaccine.

हालांकि 7 नवंबर को केंद्र सरकार ने कंपनी से लगभग एक करोड़ डोज का आर्डर दे चुके है ।

सांसद के स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा है कि बच्चों के मामले में  सरकार जल्दबाजी नहीं करना चाहती है

और साथ ही विशेषज्ञों की राय के अनुसार ही फैसला सुनाया जाएगा हालांकि ऐसा मानना है

कि जनवरी के आस पास बच्चों की वेक्सीन लगने का अभियान चालू हो सकता है

लेकिन इस बात को अभी तक कंफर्म कह पाना मुश्किल है

लेकिन तब तक बच्चों के प्रति देखभाल की ज़रूरत हैं।अगर बात करें बच्चों के स्कूल की तो,

सभी जगह बच्चों के स्कूल खुलने लगे थे लेकिन यह omicron नया वेरियंट आने से एक बार

फिर अभिवाकों को स्कूल भेजने के लिए सोचने पर मजबूर कर दिया है और बच्चों की ऑफलाइन फिर से शुरू करने लगे है

हालांकि हरियाणा और महाराष्ट्र ने ऑफलाइन क्लासेस शुरू करने की योजना दी गई है

लेकिन अभी तक केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री विभाग से इस बात को सूचना जारी नही की गई है।

वैसे यह अनुमान लगाया जा रहा है कि जो बच्चे 3 साल के आसपास है

वो लोग भी ऑनलाइन क्लास लगवाने में इछुक है हालांकि उनकी क्लास कम से कम करवाई जा रही है

जिससे बच्चों की पढ़ाई में कोई रुकावट नही आ सकें।

कैसे पहचाने बच्चों में संक्रमण को –

यह लक्षण कोरोना के लक्षण से काफी कुछ अलग है

अब केवल सर्दी जुकाम से ही नही बल्कि बच्चों में थकावट ,

सिर का दर्द होने आदि से पता लगाया जा रहा है

हालांकि 2 साल से कम उम्र के बच्चे अपने स्वास्थ्य को लेकर बता नहीं पाते है

ऐसे में अभिभावकों को बच्चों की एक्टिविटी को भांपने की ज़रूरत होगी । Omicron के इस संकेत को समझ पाना थोड़ा मुश्किल है

इसलिए अपने बच्चों के हाव भाव को परखने की कोशिश करें और थोड़ा सा भी

कुछ उनके बदलते बर्ताव दिखें तो फौरन डॉक्टर से सलाह मशवरा जरूर लेवें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here