40 से पहले बढ़ा वजन- हो सकती है कैंसर की आहट

0
25
increasing wait in the age of 40

आज के आपाधापी के समय में आदमी के अनियमित खानपान के चलते मोटापा बड़ी समस्या बनता जा रहा है यहीं नहीं अब 40 वर्ष की आयु से पहले वजन बढ़ने या मोटे होने से विभिन्न तरह के कैंसर होने का खतरा बढ़ रहा है।

एक इंटरनेशनल जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार 40 वर्ष की आयु से पहले वजन बढ़ने से अंतर्गर्भाशय कैंसर होने की आशंका 70 प्रतिशत, गुर्दे की कोशिका का कैंसर होने की आशंका 58 प्रतिशत, बृहदान्त्र (कोलोन) का कैंसर होने की आशंका 29 प्रतिशत बढ़ जाती है। अध्ययन में पाया गया कि वजन बढ़ने के कारण स्त्री और पुरुषों दोनों में मोटापे संबंधी कैंसर होने की आशंका 15 प्रतिशत बढ़ जाती है।

अनुसंधानकर्ताओं ने तीन साल में अलग-अलग समय वयस्कों का दो या अधिक बार वजन का माप लिया।

इसमें उन्हें कैंसर होने की आशंका से पहले का भी माप शामिल था। उन्होंने कैंसर के जोखिम से संबंधित चयापचय कारकों की जांच करने के लिए 2006 में शुरू किए गए ‘मी-कैन’ अध्ययन के 220,000 व्यक्तियों के आकंड़ों का भी इस्तेमाल किया। इसमें नॉर्वे, स्वीडन और ऑस्ट्रिया के लगभग 5,80,000 प्रतिभागी शामिल थे। अध्ययन में कहा गया कि 27,881 लोग जिन्हें जांच के दौरन कैंसर होने का पता चला, उनमें से 9761 (35 प्रतिशत) मोटापे से ग्रस्त थे।

अनुसंधानकर्ताओं के अनुसार, सामान्य बीएमआई वाले प्रतिभागियों की तुलना में पहले और दूसरे स्वास्थ्य परीक्षण में 30 से अधिक ‘बॉडी मास इंडेक्स’ (बीएमआई) वाले मोटे प्रतिभागियों में मोटापे से संबंधित कैंसर विकसित होने का खतरा सबसे अधिक था। अध्ययन के सह-लेखक टोने बजॉर्ग ने कहा, ‘‘पुरुषों में यह खतरा 64 प्रतिशत और महिलाओं में 48 प्रतिशत है।” उन्होंने कहा, ‘‘ हमारा मुख्य संदेश यह है कि वजन बढ़ने से रोकना कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए एक महत्वपूर्ण जन स्वास्थ्य रणनीति हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here