जानिए, कान्हा नेशनल पार्क के सफर के बारे में रोचक बातें

1
435
कान्हा नेशनल पार्क - Kanha National Park
कान्हा नेशनल पार्क टाइगर्स, बारासिंघा, सनसेट पॉइंट और जीप सफारी के लिए मशहूर है

Kanha National Park – कान्हा नेशनल पार्क मध्यप्रदेश में जबलपुर से लगभग 130 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है |

Kanha National Park kisli

यहां कैब्स और टैक्सी के द्वारा पहुंचा जा सकता है | जबलपुर से कान्हा नेशनल पार्क पहुंचने के लिए कैब्स और टैक्सी उपलब्ध है | कान्हा नेशनल पार्क घूमने के लिए नवंबर से मार्च का समय सबसे बेहतरीन होता है | अगर आप काफी दूर से कान्हा नेशनल पार्क घूमने आए हैं तो इस नेशनल पार्क के आसपास कई होटल और रिसॉर्ट उपलब्ध हैं। आप यहां अपने बजट के हिसाब से बुकिंग कर सकते हैं | इसके अलावा यहां कई गेस्टहॉउस और होमस्टे भी उपलब्ध हैं |

इसे एमपी टूरिज्म की साइट द्वारा भी बुक किया जा सकता है | एमपी टूरिज्म में घूमने के लिए यह काफी मशहूर जगह है | कान्हा पार्क घूमने के लिए यहां स्थित किस्ली के बफर जोन से एक जीप सफारी भी उपलब्ध कराई जाती है | सबसे ख़ास बात यह है कि अगर आपको परमिशन दी जाती है तो आप यहां रात में भी घूम सकते हैं |

कान्हा नेशनल पार्क टाइगर्स, बारासिंघा, सनसेट पॉइंट और जीप सफारी के लिए ज्यादा मशहूर है |

kanha

यहाँ पर टाइगर, पैंथर, सांबर, बारासिंघा, चीतल, ब्लैक बक, बार्किंग डियर, गौर लंगूर, वाइल्ड पिग, चौसिंघा, स्लोथ बियर, वाइल्ड डॉग्स अक्सर दिखाई देते हैं | इसके अलावा यहाँ रेप्टाइल्स, मछलियों और चिड़ियों की भी कई प्रजातियों को देखा जा सकता है |

कान्हा नेशनल पार्क मध्यप्रदेश में एक प्रमुख पर्यटक आकर्षण रहा है।

sloth bear

यह नेशनल पार्क तब से प्रसिद्ध है जब से रुडयार्ड किपलिंग ने अपनी मास्टरपीस जंगल बुक कही थी | अक्सर ऐसा माना जाता है कि किपलिंग को कान्हा राष्ट्रीय उद्यान से प्रेरित किया गया था। कान्हा नेशनल पार्क लगभग 1,940 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में बनाया गया है |

peacock

यह पार्क टाइगर, ब्लैकबक और मोर के लगातार दृश्यों के लिए भी जाना जाता है। कान्हा नेशनल पार्क में पक्षियों का एक बड़ा झुण्ड भी देखा जा सकता है | कान्हा नेशनल पार्क को मध्यप्रदेश में एक लोकप्रिय जगह मानी जाती है ।

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here