मुस्लिम महासभा मध्य प्रदेश ने मनाया शेरे मेंसुर टीपू सुल्तान का यौमे पैदाइश

0
60
Muslim Mahasabha
मुस्लिम महासभा मध्य प्रदेश ने मनाया शेरे मेंसुर टीपू सुल्तान का यौमे पैदाइश

मुस्लिम महासभा मध्य प्रदेश ने मनाया शेरे मेंसुर टीपू सुल्तान का यौमे पैदाइश

भोपाल के गोल घर आसरा वृद्ध आश्रम में बुज़ुर्गों के बीच फल एवं स्वपल्हार बांटकर

मनाया गया मुस्लिम महासभा भोपाल जिला अध्यक्ष मोहम्मद अली की अध्यक्षता में फिरंगियों

से लड़ते हुए शहीद हुए टीपू सुल्तान को उनकी यौमे पैदाइश पर याद किया गया

जिसमें मुस्लिम महासभा प्रदेश अध्यक्ष मुनव्वर अली ख़ान ने बताया के किस

बहादुरी के साथ टीपू सुल्तान ने 18 साल की उम्र में फिरंगियों से पहली जंग लडी

वरिष्ठ उपाध्यक्ष मोहतरमा रशीदा ख़ानम ने कहा के जिस तरीके से देश में नाम

बदलने का चलन चला है व देश की एकता अखण्डता को मिटाया जा रहा है

ये अच्छे संकेत नहीं है मुस्लिम महासभा अपने देश की आज़ादी के लिये शहीद होने

वाले सभी शहीदों को उनकी शहादत दिवस पर और उनकी यौमे पैदाइश पर हमेशा

याद रखेगी और प्रदेश के सभी जिलों में उनको मनाया जायेगा, महा सचिव इरशाद

अली खान ने बताया के टीपू सुल्तान साहब से बड़ा सेकुलर कोई नहीं था वो

सभी मज़हबों का आदर करते थे जिसकी मिसाल इतिहास में दर्ज है उन्होंने

156 मंदिरों को ज़मीन और गहने दान में दिये थे,

10 हज़ार सोने के सिक्के कांची मन्दिर को दान में दिये थे प्रदेश सचिव

युसुफ खान ने बताया के फिरंगियों से टीपू सुल्तान जब आखिरी जंग लड़ रहे थे

तो उन्होंने कहा सो साला गीदड की ज़िंदगी से एक दिन की शेर की मौत बेहतर है,

प्रदेश संघटन मंत्री फहीम खान ने,उनको याद करते हुए कहा की टीपू सुल्तान दुनिया

के पहले राकेट लांचर के जनक थे जिससे फिरंगियों की नींद हराम थी,

भोपाल संभाग प्रभारी मोहम्मद कलीम खान ने कहा के अगर मराठा और निजाम

हैदराबाद की फौजें अंग्रेज़ों का साथ नहीं देतीं तो अंग्रेज़ कभी भी दक्कन पर क़ब्ज़ा

नहीं कर पाते पूर्व भोपाल जिला अध्यक्ष एवं प्रदेश बोर्ड मेंबर इकराम उल हक़ साहब ने

बताया के जब फिरंगियों से लड़ते हुए टीपू सुल्तान शहीद हो गये, तो फिरंगियों को

उनकी मौत पर भरोसा नहीं हो रहा था, टीपू सुल्तान के खौफ के मारे उनके मूर्त शरीर

के पास घण्टों क़रीब जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे,

उनकी मुत्यु का यक़ीन होने के बाद फिरंगियों ने कहा के हमने अब हिंदुस्तांन पर क़ब्ज़ा कर लिया है

भोपाल जिला अध्यक्ष मोहम्मद अली ने बताया के टीपू सुल्तान की ख्याति का

अंदाज इस बात से लगाया जा सकता है के उनकी तलवार” इक्कीस करोड़ में नीलाम

हुई व तोप पंद्रह करोड़ में नीलाम हुई थी जिला उपाध्यक्ष मुबीन खान ने बताया जिस

दौर हम अंग्रेज़ों से आज़ादी की लड़ाई लड़ रहे थे तब कई रियासतों ने अंग्रेज़ों की गुलामी

कुबूल कर चुके थे पर टीपू सुल्तान ने गुलामी कुबूल करने की जगह अपने मुल्क के

लिये शहीद होना क़ुबूल किया ,इत्तेहाद यूथ क्लब के अध्यक्ष परवेज़ह कुरेशी ने

मुस्लिम महासभ के इस प्रोग्राम में अपने साथियों के साथ शिरकत की और ये

कहा के टीपू सुल्तान ( फतेह अली खान) बचपन से अद्भुत प्रतिभाओं के धनी थे

इस मौक़े पर मोहम्मद ज़फ़र, रेहान एहमद्, उसमान एहमद् ,

फेज़ान् एहमद आदि मौजूद रहे l

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here