लुसाने डायमंड लीग Lausanne Diamond League का खिताब जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने नीरज़ चोपड़ा

0
75
Lausanne Diamond League
Neeraj Chopra photo win Lausanne Diamond League

भारत के स्टार जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा ने चोट से उबरने के बाद धमाकेदार वापसी की।

नीरज ने पहले प्रयास में 89.08 मीटर का थ्रो किया। यह उनके करियर का तीसरा सर्वश्रेष्ठ थ्रो है। इस शानदार जीत के साथ ही उन्होनें सात एवं आठ सिंतबर को ज्यूरिख में होने वाले फाइनल्स में भी अपनी जगह बना ली है|

तीसरे प्रयास में पास होने से पहले उनका दूसरा थ्रो 85.18 मीटर मापा गया। उनका चौथा थ्रो फाउल था जबकि छठे और आखिरी राउंड में 80.04 मीटर के साथ आने से पहले उन्होंने फिर से अपना पांचवां प्रयास पारित किया। पांचवें राउंड के बाद केवल शीर्ष तीन को ही छठा थ्रो मिलता है।

चोपड़ा ने कार्यक्रम के बाद कहा

मैं आज रात अपने परिणाम से खुश हूं। 89 मीटर एक शानदार प्रदर्शन है मैं विशेष रूप से खुश हूं क्योंकि मैं चोट से वापस आ रहा हूं और आज रात एक अच्छा संकेतक था कि मैं अच्छी तरह से ठीक हो गया हूं। मुझे चोट के कारण राष्ट्रमंडल खेलों को छोड़ना पड़ा और मैं थोड़ा घबराया हुआ था। आज रात ने मुझे ज्यूरिख डीएल फाइनल में एक मजबूत प्रदर्शन के साथ सीजन को उच्च स्तर पर समाप्त करने के लिए बहुत आत्मविश्वास दिया है।”

साथ ही चोपड़ा ने बुडापेस्ट, हंगरी में 2023 विश्व चैंपियनशिप के लिए भी 85.20 मीटर क्वालीफाइंग मार्क को तोड़कर क्वालीफाई कर लिया।

चोपड़ा 89.94 मीटर के राष्ट्रीय रिकॉर्ड थ्रो के साथ पीटर्स के बाद प्रतिष्ठित इवेंट के स्टॉकहोम लेग में दूसरे स्थान पर रहे थे, जो भाला फेंक की दुनिया में स्वर्ण मानक 90 मीटर के निशान से सिर्फ 6 सेमी कम है।

बता दें की इस बार (Neeraj Chopra) नीरज़ चोपड़ा 2022 के काॅमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा नही ले पाए थे।

इससे पहले वो अमेरिका के यूजीन में हुई वर्ल्ड चैंपियनशिप (Eugene, USA) में देश के लिये सिल्वर मेडल जीते थे।

इसी दौरान उन्हें कमर में चोट लगी थी।

चोट के बाद भी देश के लिये मेडल लाने का जज्बा ही उन्हे स्टार खिलाड़ी बनाता है।

उनके इस जज्बे को सलाम है वो ऐसे ही आगे बढते हुए देश का नाम रौशन करते रहे ।