2 October गांधी जयंती पर PM मोदी ने राजघाट पहुंचकर किया नमन

0
57
On 2nd October, on Gandhi Jayanti, PM Modi paid homage by reaching Rajghat.
On 2nd October, on Gandhi Jayanti, PM Modi paid homage by reaching Rajghat.

प्रधानमंत्री मोदी ने महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया, ‘‘गांधी जयंती पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि। इस बार गांधी जयंती बहुत खास है क्योंकि भारत आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। मेरी कामना है कि हम हमेशा बापू के आदर्शों पर खरे उतरें। मैं आप सभी से गांधी जी को श्रद्धांजलि के तौर पर खादी तथा हस्तशिल्प उत्पाद खरीदने का भी आग्रह करता हूं।” शास्त्री को श्रद्धांजलि देते हुए उन्होंने कहा कि लाल बहादुर शास्त्री जी की उनकी सादगी तथा निर्णय क्षमता के लिए पूरे भारत में प्रशंसा की जाती है। हमारे इतिहास के बेहद अहम मौके पर उनके मजबूत नेतृत्व को हमेशा याद रखा जाएगा। उनकी जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि।

Mahatma Gandhi Birth Anniversary: गांधी जयंती के मौके पर देशभर में कार्यक्रम आयोजित कर बापू को याद किया जा रहा है. राजघाट पर बापू को नमन करने के लिए नेताओं का जमावड़ा लगा है. उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने राजघाट पर जाकर बापू को श्रद्धांजलि दी. महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) को श्रद्धांजलि देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी राजघाट (Rajghat) पहुंचे. पीएम मोदी ने 153वीं जयंती पर महात्मा गांधी को नमन किया. पीएम ने इस मौके पर लोगों से खादी और हस्तशिल्प उत्पाद खरीदने की भी अपील की. 

देशभर में 2 अक्टूबर (2nd October) का दिन गांधी जयंती (Gandhi Jayanti) के तौर पर मनाया जाता है. गुजरात के पोरबंदर में 2 अक्टूबर 1869 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का जन्म हुआ था.

पीएम मोदी ने बापू को किया याद

गांधी जयंती के मौके पर पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ” गांधी जयंती पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि. यह गांधी जयंती और भी खास है क्योंकि भारत आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है. हमेशा बापू के आदर्शों पर खरे उतरें. मैं आप सभी से गांधी जी को श्रद्धांजलि के रूप में खादी और हस्तशिल्प उत्पाद खरीदने का भी आग्रह करता हूं

राजनाथ सिंह ने किया नमन

गांधी जयंती के मौके पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, ”पूज्य बापू की जयंती पर मैं उन्हें श्रद्धापूर्वक नमन करता हूं. गांधीजी ने देश में ग्राम विकास और आत्मनिर्भरता का जो विचार दिया था, वह आज आज़ादी के अमृतकाल में एक नए युग में प्रवेश कर चुका है. उनके विचार और आदर्श  देशवासियों को हमेशा प्रेरणा देते रहेंगे”.

पूज्य बापू की जयंती पर मैं उन्हें श्रद्धापूर्वक नमन करता हूँ। गांधीजी ने देश में ग्राम विकास और आत्मनिर्भरता का जो विचार दिया था, वह आज आज़ादी के अमृतकाल में एक नए युग में प्रवेश कर चुका है। उनके विचार और आदर्श देशवासियों को हमेशा प्रेरणा देते रहेंगे।

सोनिया गांधी ने भी अर्पित किए श्रद्धा सुमन

बापू की जयंती के खास मौके पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी रविवार सुबह राजघाट पहुंचे. उन्होंने बापू की समाधि स्थल पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें याद किया. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने लिखा, ” बापू ने हमें सत्य और अहिंसा के पथ पर चलना सिखाया. प्रेम, करुणा, सद्भाव और मानवता का अर्थ समझाया. आज गांधी जयंती पर, हम प्रण लेते हैं, जिस तरह उन्होंने देश को अन्याय के खिलाफ एकजुट किया था, वैसे ही अब हम भी अपना भारत जोड़ेंगे.”

बापू ने हमें सत्य और अहिंसा के पथ पर चलना सिखाया। प्रेम, करुणा, सद्भाव और मानवता का अर्थ समझाया।

आज गांधी जयंती पर, हम प्रण लेते हैं, जिस तरह उन्होंने देश को अन्याय के खिलाफ एकजुट किया था, वैसे ही अब हम भी अपना भारत जोड़ेंगे।

सीएम केजरीवाल ने शास्त्री को किया याद

2 अक्टूबर को देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की भी जयंती है. इस मौके पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लिखा, ”पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर उन्हें कोटि-कोटि नमन. उनकी सादगी और ईमानदारी के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा.”

पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर उन्हें कोटि-कोटि नमन। उनकी सादगी और ईमानदारी के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा।

आज पूरा देश गांधी जयंती और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के मौके पर उन्हें याद कर रहा है. नेता से लेकर आम लोग दोनों नेताओं को याद कर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित कर रहे हैं. देशभर में कार्यक्रमों का आयोजन किए जा रहे हैं. सत्य और अहिंसा के सिद्धांत बापू की सबसे बड़ी ताकत थी. सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलते हुए उन्होंने देश को आजाद कराने को लेकर कई आंदोलन किए और अंग्रेजो को फिर भारत छोड़कर जाने पर मजबूर होना पड़ा.