बीजेपी ने भी कांग्रेस पर जमकर पलटवार किया कहा….

0
34
बीजेपी ने भी कांग्रेस पर जमकर पलटवार किया कहा....
बीजेपी ने भी कांग्रेस पर जमकर पलटवार किया कहा....

गुजरात में विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी हलचल तेज है, एक ओर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे (Mallikarjun Kharge) ने सत्तारूढ़ बीजेपी के आगे गुजरात के आंकड़े रखकर कई सवाल दागे तो वहीं अब बीजेपी ने भी कांग्रेस पर जमकर पलटवार किया है|  

मल्लिकार्जुन खरगे ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा, उन्होंने तंज कसते हुए कहा, ‘इधर-उधर की बात मत कीजिये, ये बताइये कि काफिला क्यों लूटा?’ खरगे ने गुजरात के आंकड़े रखकर प्रधानमंत्री से जवाब भी मांगा, उन्होंने कहा कि 7 करोड़ गुजरातियों पर बीजेपी ने 4.5 लाख करोड़ का कर्ज़ लादा है, CAG ने चेतावनी दी है कि गुजरात क़र्ज के चक्र में फंस रहा है, बीजेपी ने गुजरात की जनता को आर्थिक बोझ और सामाजिक द्वेष के सिवा कुछ नहीं दिया|

किसानों-आदिवासियों को लेकर बीजेपी पर निशाना

खरगे ने कहा कि बीजेपी ने गुजरात के किसानों से धोखा किया है, देश के किसानों से वादा किया था कि Cost+50 प्रतिशत एमएसपी देंगे, जोकि किसानों के साथ सबसे बड़ा विश्वासघात निकला गुजरात के किसान अब डीजल, जीएसटी, बिजली और लागत की बढ़ती कीमतों से तंग आ चुके हैं, गुजरात में दलितों और आदिवासियों का शोषण हो रहा है बीजेपी यहां अपराधियों का संरक्षण करती है| उना कांड को लेकर उन्होंने कहा कि प्रशासन के संरक्षण में दलितों को सरेआम पीटा गया, इस कांड ने भारतवासी की अंतरात्मा को झकझोर दिया. आदिवासियों को उनके अधिकार नहीं दिए गए| 

खरगे ने बीजेपी को बताया महिला विरोधी 

इतना ही नहीं कांग्रेस अध्यक्ष ने बीजेपी को महिला विरोधी बताया है, आरएसएस की मानसिकता ने गुजरात की आधी आबादी के हक़ छीने. महिलाओं के खिलाफ अपराधों के 100 प्रतिशत मामले अदालतों में लंबित हैं इसके अलावा राज्य के शिक्षा स्तर को भी बीजेपी ने गिराया है. गुजरात में शिक्षकों के 28,000 पद खाली पड़े हैं. 700 प्राथमिक विद्यालयों का संचालन एक ही शिक्षक कर रहा है खरगे ने कहा कि अब परिवर्तन का समय आ गया है, 27 सालों के बीजेपी के कुशासन को जड़ से उखाड़ने का समय आ गया है|  

बीजेपी नेता अमित मालवीय का पलटवार 

वहीं, खरगे को लेकर बीजेपी नेता अमित मालवीय (Amit Malviya) ने कहा कि कांग्रेस गुजरात चुनाव की गर्मी सहने में असमर्थ रही. यही कारण है कि मल्लिकार्जुन ने अपना पारा खो दिया. उन्होंने अपनी बातों पर नियंत्रण खो दिया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘रावण’ कह दिया ‘मौत का सौदागर’ से लेकर ‘रावण’ तक कांग्रेस गुजरात और उसके बेटे का अपमान करती रही. उन्होंने अपने इस ट्वीट के साथ खरगे का वीडियो भी शेयर किया था|