Home Health & Fitness Thyroid को कैसे करें जड़ से खत्म, तीन महीने में। आइये...

Thyroid को कैसे करें जड़ से खत्म, तीन महीने में। आइये जाने।

0
Thyroid को कैसे करें जड़ से खत्म, तीन महीने में।आइये जाने।

हमारी बदलती लाइफ स्टाइल में बहुत बड़ा बदलाव आ गया है।

बहुत से हार्मोन्स की वजह से भी हमारे शरीर मे हुई कमी को भी नहीं समझ पाते है

और धीरे धीरे यह बड़ी बीमारी को भी हमारे शरीर मे जगह बना देता है।

\ऐसी कई विटमिन की कमी से भी बहुत से नुकसान करा देता है।

Thyroid एक ऐसी बीमारी है अगर समय रहते उसके संकेत को नहीं समझ पाए eit

तो यह एक समस्या का कारण भी बन सकता है।

इस वजह से खान पान , तनावपूर्ण ज़िंदगी  को बेहतर रखना ज़रूरी हो जाता है।

Thyroid कैसे होता है ?

Thyroid

थायराइड का होना सबसे ज्यादा इसका प्रभाव बदलती रोजमर्रा की जिंदगी की वजह से होता है।

गलत समय पर गलत खाना, बेवजह की चिंताओं में डूबे रहना यह भी एक मुख्य कारण है।

देखा जाय तो थायराइड 2 प्रकार के होते है,थायराइड के एक प्रकार की बात करें तो

उसमें पीड़ित व्यक्ति पतला (hyperthyroidism) होने लगता है,

तो वही दूसरे प्रकार के थायराइड में मरीज का वजन तेजी (hypothyroidism) से बढ़ने लगता है

जिसके कारण हार्मोन  असंतुलित हो जाते हैं। हालांकि यह सबसे ज्यादा महिलाओं में समस्या होती है।

रिपोर्ट के मुताबिक इस बीमारी को ठीक नहीं किया सकता है लेकिन यह बात असल मे गलत है

हम इस बीमारी को जड़ से निकाल सकते है। वो भी बिना दवाइयों के। कहा जाता है

कि जब यह समस्या खड़ी होती है तो संकेत को पहचानना मुश्किल होता है।

तो आइए जानते है कि ऐसे क्या लक्षण होते है जिसे जल्दी जानकर हम इलाज में देरी ना कर सकें।

Thyroid के लक्षण –  जब T4 और T3 हार्मोन का आवश्यकता से अधिक उत्पादन होने लगता है

तो शरीर मे कई तरह की ऊर्जा उत्पादित हो जाती है।

इसे ही हाइपरथायरायडिज्म (Hyperthyroidism) कहते हैं।

पुरुषों की तुलना महिलाओं में यह समस्या अधिक देखी जाती है।

तो आइए जाने ऐसी बातें जिनके संकेत से आप जानकर खुद से इलाज करवा सकते है वो भी 3 महीने में-

घबराहट,चिड़चिड़ापन अधिक पसीना आना। हाथों का काँपना।

बालों का पतला होना एवं झड़ना। अनिद्रा (नींद ना आने की परेशानी) मांसपेशियों में कमजोरी एवं दर्द रहना।

दिल की धड़कन बढ़ना। बहुत भूख लगने के बाद भी वजन घटता है।

महिलाओं में मासिक धर्म की अनियमितता देखी जाती है।

ओस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis) हो जाता है,

जिसकी वजह से हड्डी में कैल्शियम (Calcium) तेजी से खत्म होता है।

Thyroid को जड़ से कैसे करें कम ?

अगर हम डाइट को रोजाना अपनी जिंदगी में अपनाएं तो जो भी दवाइयां ले रहे है

वो अपने आप ही बंद हो जाएगी। अगर आपको थायरॉइड कई सालों से चलता आ रहा है

तो हो सकता है 2 महीने से ज्यादा 3 महीने लगे लेकिन अगर

आप इस नियम को अपनाएं तो यह समस्या जड़ से भी खत्म हो सकती है।

तो आइए अपनाएं इन बातों को और रोज रोज की दवाइयों से छुटकारा मिल सके

तो अपनाएं ये 5 नियम- और Thyroid को करें जड़ से खत्म-

1 सात्विक भोजन प्रक्रिया –

हमारे शरीर मे  यह 4 क्वालिटी होना ज़रूरी है

LWPW ( Living, Wholesome, Plant- Based, Water Rich)  यह एक ऐसा खाना जो माँ प्रकृति ने दिया है

जैसे कि फल, सब्जियां, अंकुरित, गेहूं से बनी चीजें।

और रस से भरपूर फलों का सेवन करना है.तो इस तरह फॉलो करे डाइट प्लान को-

डाइट प्लान

सफेद पेठे का जूस को हम रोजाना सुबह के समय मे लेंगे तो हमारे थायरॉइड को दूर करने में मददगार सिद्ध हुआ है

इस जूस से कब्ज की समस्या दूर करता है अगर वजन काफी बड़ा हुआ है तो उसे कंट्रोल करता है।

इसे बनाते समय इसका छिलका और बीज हटाना ज़रूरी है

इसके छोटे पीस काटकर धनिया पत्ती के साथ मिक्सर अच्छे से पीस लें या

फिर अगर सफ़ेद पेठा आपको ना मिल सकें तो आप किसी भी सब्जी का जूस बना सकते है

जैसे खीरे का जूस या घीया का जूस और इसमें धनिया मिला लीजिए। या फिर नारियल पानी भी ले सकते है।

लेकिन एक खास बात यह है जूस पीने के लगभग एक-डेढ़ घण्टे तक कुछ नही खाना है।

-गेहूं के साथ सब्जी से बनी रोटी अगर किसी भी आटे के साथ आप चुकन्दर,

खीरे या किसी भी सब्जी की चपाती आप ले सकते हैं जैसे कि 50% आटा और 50% सब्जी।

-रिफाइंड तेल की जगह नारियल खीस कर सब्जी में डालना, 

सब्जी के साथ नारियल को खीस कर इसका तेल आराम से निकल सकता है

जिसे आप स्वादिष्ट की तरह ही खा सकते है। याद रहे एक बार एक ही अनाज खाएं

जैसे दाल रोटी की जगह सब्जी रोटी ही खाएं और डकल चावल कक जगह सब्जी चावल खाने है

बिस्किट की जगह नारियल खाएं , और मौसमी फल खाएं, ब्राउन चावल खायें और सफेद चावल बंद कर दें।

डेरी दूध की जगह नारियल का दूध पिए  यह दूध एक पोष्टिक दूध है

नारियल को काट कर पानी थोड़ा सा मिला दें फिर मिक्सी में पीस लें।

उसके बाद कॉटन से उसका रस निकाल लें। यह सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है।

सफेद नमक की जगह सेंधा नमक ही लें। क्योंकि सफेद नमक बहुत लंबी प्रक्रिया और

रिफाइंड से मिलकर बना होता है अगर जो भी आयोडीन की कमी है

वो इस प्लान को को फॉलो करके खुद ब खुद  पूरी हो जाएगी। गुड़ या ख़जूर खाएं चीनी की जगह।

कहा जाता है खाना जरूरी है लेकिन कभी कभी कुछ ना खाना भी जरूरी है

क्योंकि हमारे शरीर को थोड़ा आराम करना भी जरूरी है अब दूसरा नियम-

2) 16 घण्टे उपवास-

कहा जाता है कि सबसे बड़ा डॉक्टर हमारे शरीर के अंदर होता है

सर्फ 3 दिन तक फॉलो करें और यह हमारी ज़िंदगी में अपने आप ही जुड़ जाएगा।

रात के खाने के बाद शरीर को 16 घण्टे आराम दें जैसे अगर हम खाना रात 7 बजे लेते है

तो अगले दिन 11 बजे ही सॉलिड खाना लें। या फिर रात 8 बजे लेते हैं तो अगले दिन 12 बजे लें।

अगर हम पूरा दिन खाते है तो हमारा शरीर डाइजेशन में ही व्यस्त रहता है

और पचाने की प्रक्रिया को खराब करता है। इस नियम को अपनाने से सालों की गंदगी दूर होने लगती है

और खून भी खुद ब खुद साफ होने लगता है। हेयर ग्रोथ वापस होने लगती है।

वजन ज्यादा है तो वो कम होने लगता है Thyroid ग्लैंड की काम करने की क्षमता बढ़ जाती है।

3 एनीमा -( Enema)

एनीमा(Enema)

कहा जाता है कि थायराइड प्रॉब्लम का जन्म हमारी intestines में होता है

जब तक हम अपनी आंते नही साफ करेंगे तो हमारे थायरॉइड की समस्या कभी खत्म नहीं होगी

अगर एनीमा(Enema) में 5 से 7 पानी को होल्ड करते है और धीरे धीरे पानी अंदर जा कर गन्दगी को दूर करता है

और टॉयलेट  के साथ सारी गंदगी को दूर कर देता है। एनीमा बिल्कुल सुरक्षित है

और फ्री भी जो अपने ही घर मे ही सिर्फ 10 मिनिट में कर सकते है।

जब इस प्लान को आप शुरू करते है तो 21 दिनों तक रोज लेना है

उसके बाद एक हफ्ते में एक बार या फिर ज़रूरत पड़ने पर लेना है

4 ठंडी पट्टी (Wet Pack) –

आपको एक कॉटन की पट्टी लेनी है और पानी में डुबो कर पेट, गले और माथे में लपेटनी है

इसको करीब आधा घण्टा ही रखना है इसको लगाने से आपके शरीर मे 2 तापमान मेनटेन होते है

जहाँ ठंडी पट्टी लगाई है उसके 2 पार्ट ठंडे हो जाते है 2 पार्ट गर्म ।

जब एक समय मे 2 तापमान बराबर होते है तो हमारे शरीर की खून की प्रक्रिया बढ़ जाती है

ब्लड के साथ ही गन्दगी भी साफ होने लगती है इसको लगाने से थायरॉइड ग्लैंड में काम करने की क्षमता बढ़ जाती है

और हार्मोन्स भी जनरेट करने लग जाता है ठंडी पट्टी 3 महीने तक रोज लगानी है

एक बार सुबह और एक बार शाम । 3 महीने बाद सिर्फ ज़रूरत पड़ने पर ही लगानी है

और सर्दियों के मौसम में इसको फॉलो ना करें बाकी जो नियम है उनको ही फॉलो करें।

5 out door exercise-

व्यायाम हमारे थायरॉइड के लिये बहुत ज़रूरी है अगर हम एक ही एक ही जगह घण्टों बैठे रहते है

तो हमारे थायरॉइड ग्लैंड में एक्टिविटी बंद हो जाती है अगर आप रोजाना  व्यायाम करते है

तो आपके ग्लैंड में मूवमेंट होने लगती है और होर्नोंस जनरेट करना शुरू कर देता है

रोज 1 घण्टे करनी है और व्यायाम  करने के बाद पसीना आना ज़रूरी है।

व्यायाम या योगा रोजाना करने से यह समस्या दूर हो जाती है।

क्या ना खाएं –

ऐसी बाजार से बनी चीज़ें बिल्कुल ना खाएं जो बाजार में पैकेट, बोटल में बंद आता है 

जो हमारे शरीर को गन्दा करता है। सफेदचीनी, सफेद नमक, सफेद चावल और मास से बनी चीजें ना खाएं।

जैसे अंडे , और याद रखें यह हमारे शरीर को खोखला करता है-

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here