एएमयू में जिन्ना की तस्वीर को लेकर हुए बवाल

0
79
अलीगढ़, 03 मई  उत्तर प्रदेश में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) छात्रसंध कार्यालय में पाक संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की फोटो लगाने के विवाद को लेकर कल हुई झड़प के बाद अब स्थिति सामान्य है। इस सिलसिले में दो मामले दर्ज कराये गये है ।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सहानी ने आज यहां बताया कि एएमयू में लगी पाक संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की फोटो को लेकर हिन्दूवादी संगठनों ने नारे बाजी की और पुतला फूंका था। इसके बाद एएमयू के सैंकडों छात्रों ने प्रदर्शनकारियों की गिरफतारी की मांग को लेकर सिविल लाइन थाने पर हंगामा करने का प्रयास किया था। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच हाथापाई की नौबत आ गइ थी। उन्हें वहां से हटाने के दौरान छात्रों अौर पुलिस के बीच भी झडप हुई जिसमें करीब छह पुलिसकर्मियों को चोट आई। इस घटना में कुछ छात्र भी चोटिल हुए।
उन्होंने बताया कि घटना के बाद एएमयू परिसर में एहतियातन के तौर पर पुलिस और पीएसी के अलावा आरएएफ के जवान तैनात है। अभी हालत सामान्य है और स्थिति पर नजर रखी जा रही है। दोनों पक्षों के बीच बातचीत चल रही है । उन्होंने बताया कि पुलिस एवं प्रशासन पूरी तरह चौकस है ।
एमएयू प्रशासन ने हिन्दूवादी संगठनों से जुड़े कुछ युवकों ने एएमयू के सुरक्षा कर्मियों के साथ मारपीट करने का आरोप लगाते हुये आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। जबकि दूसरा मुकदमा एएमयू छात्रसंध के खिलाफ भारतीय दण्ड विधान की धारा 147,341,353,336,307,504,506,332 तथा अपराधिक कानून संशोधन एक्ट के तहत उस्मानी और मस्कूर अहमद सहित सात के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है ।
इस बीच जिलाधिकारी चन्द्रभुषण सिंह ने ‘यूनीवार्ता’ को बताया पुलिस द्वारा कोई बल प्रयोग नही किया गया उनको समझाने का प्रयास किया गया है ।
गौरतलब है कि एएमयू छात्रसंध के कार्यालय में जिन्ना की फोटो को लेकर युवा वाहिनी के कार्यकर्ता कल नारेबाजी की और जिन्ना का पुतला फूंका था। उसकी प्रतिक्रिया स्वरुप एएमयू के छात्रों ने सिविल लाइन थाने पर हंगामा किया था और भीड़ को खदेडने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा था ।
सं त्यागी तेजवार्ता