कांग्रेस का घोषणापत्र ‘ढकोसला पत्र’ है – मोदी (लीड-1)

0
62
Prime Minister Narendra Modi
Prime Minister Narendra Modi addresses a public rally in Arunachal Pradesh's

पासीघाट (अरुणाचल प्रदेश), 3 अप्रैल |

कांग्रेस के घोषणापत्र को ‘ढकोसला पत्र’ करार देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कांग्रेस पर पूर्वोत्तर के लोगों की आकांक्षाओं को 60 साल में पूरा करने में विफल रहने का आरोप लगाया।

मोदी ने पूर्वी अरुणाचल प्रदेश जिले में जनरल ग्राउंड पर चुनावी रैली में कहा कि उनकी सरकार पूर्वोत्तर भारत व अरुणाचल प्रदेश को पूर्वी एशिया का प्रवेश द्वारा बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।

मोदी ने कहा, “देश पर एक परिवार ने 55 सालों तक शासन किया, लेकिन फिर भी वे दावा नहीं कर सकते कि अरुणाचल प्रदेश व दूसरे पूर्वोत्तर राज्यों के लिए जो किया जाना चाहिए, वह किया गया।”

मोदी ने कहा, “मैं एक ऐसा व्यक्ति हूं जो चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार हूं। मैं दावा नहीं कर सकता कि पांच सालों में मैंने सभी कार्य किए जिनका जरूरत थी, लेकिन यह चौकीदार विकास सुनिश्चित करने के लिए लगातार काम कर रहा है।”

उन्होंने कहा, “उन्होंने (कांग्रेस) अपना घोषणापत्र जारी कर दिया। लेकिन, इसे ढकोसला पत्र कहा जाना चाहिए। यह झूठ से भरा है।”

एक उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 2004 के घोषणापत्र में 2009 तक देश के सभी घरों में बिजली पहुंचाने का वादा किया गया था। हालांकि, उन्होंने इस आश्वासन को फिर से 2009 में दोहराया। साल 2014 में उन्होंने कहा कि शहरी इलाके के 100 फीसदी घरों व ग्रामीण इलाकों के 90 फीसदी घरों में बिजली का कनेक्शन दिया जाएगा।

मोदी ने कहा कि फिर भी हमारी सरकार के 2014 में आने पर 18,000 गांवों को बिजली कनेक्शन दिया जाना बाकी था।

उन्होंने कहा, “क्या आप ने मुझे कभी छुट्टी लेते हुए सुना है? क्या आप ने मुझे मौज-मस्ती करते हुए देखा है? आपका प्यार मुझे लगातार दिन व रात काम करने की ऊर्जा देता है। अरुणाचल प्रदेश व पूर्वोत्तर के दूसरे राज्यों के लिए पूर्व एशिया का प्रवेश द्वार बनाना हमारी प्रतिबद्धता है।”

उन्होंने कहा कि भाजपा विभिन्न समुदायों की संस्कृति, परंपरा के संरक्षण के पक्ष में है।

उन्होंने कहा, “वह (कांग्रेस) सत्ता के लिए सत्ता में आई थी, लेकिन यह चौकीदार लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए हरदम तैयार है। आपने कांग्रेस का साठ साल का शासन देखा है और हमारी सरकार के साठ महीने का शासन देखा है। क्या आप बता सकते हैं कि कितने प्रधानमंत्री अपने शासन के दौरान यहां आए।”

उन्होंने कहा, “मैं अरुणाचल प्रदेश व पूर्वोत्तर में बीते पांच सालों में 30 बार आया हूं।”

उन्होंने कहा, “चौकीदार हमेशा जगा रहता है और जागते रहो का नारा लगाकर लोगों को भी जगाता है। यह चौकीदार आपको कांग्रेस के झूठे वादों के खिलाफ जगाने के लिए यहां आया है।”

अरुणाचल प्रदेश की 60 सदस्यीय विधानसभा व दो लोकसभा सीटों के लिए 11 अप्रैल को मतदान होना है।–आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here