कॉलेज कब खुलेंगे, तय नहीं, लेकिन

0
17
कॉलेज कब खुलेंगे, तय नहीं, लेकिन
कॉलेज कब खुलेंगे, तय नहीं, लेकिन

कोरोना संक्रमण को देखते हुए अगला शिक्षा सत्र शुरू होने को लेकर तारीख अभी तय नहीं हुई है। ऑनलाइन और ऑफलाइन क्लासेस के लिए भी गाइडलाइन आनी शेष है। इसके बावजूद उच्च शिक्षा विभाग ने सरकारी कॉलेजों में अतिथि विद्वानों की भर्ती करने की तैयारी शुरू कर दी है। हर साल की तरह इस बार भी प्रदेशभर के कॉलेजों में प्रबंधन से अतिथि विद्वानों के बारे में जानकारी बुलाई है। जनभागीदारी समिति के जरिए भर्ती की जाएगी। उम्मीदवारों से 8 अगस्त तक आवेदन आमंत्रित किए हैं।


सरकार ने 31 जुलाई तक फिलहाल कॉलेज और विश्वविद्यालय बंद रखने को कहा है। संक्रमण को लेकर उच्च शिक्षा विभाग ने विद्यार्थियों के लिए कक्षाएं लगाने के संबंध में कोई निर्देश जारी नहीं किए हैं। अभी स्पष्ट नहीं है कि कोर्स ऑनलाइन या ऑफलाइन क्लासेस के जरिए पूरा करवाया जाएगा।

गाइडलाइन के बाद संस्थानों को शारीरिक दूरी बनाते हुए कम विद्यार्थियों के साथ कक्षाएं लगाना है। कई कॉलेजों को विद्यार्थियों की संख्या अधिक होने से दो पारियों में कक्षाएं लगानी पड़ सकती हैं। खासकर सरकारी कॉलेजों में तीन से चार हजार विद्यार्थी पढ़ते हैं। इस बीच अतिथि विद्वानों की भर्ती करने की शुरू कर दी है। आवेदन बुलवाए जा रहे हैं। 8 अगस्त तक ऑनलाइन आवेदन करना है। इसके बाद सूक्ष्म परीक्षण किया जाएगा।


बढ़ानी होगी कक्षाओं की संख्या
सरकारी कॉलेजों में प्रत्येक कक्षा में 60-80 विद्यार्थी हैं। पहले जहां इन्हें एक कक्षा में बिठाकर पढ़ाया जाता था, लेकिन अब शारीरिक दूरी का पालन करते हुए 40-40 विद्यार्थियों की कक्षा रहेगी। इसके चलते अतिथि विद्वानों के साथ कक्षाओं की संख्या बढ़ाना पड़ेगी। जानकारों के अनुसार अतिथि विद्वानों को महीनेभर में 16-20 कक्षाएं देते हैं, लेकिन अब इन्हें एक ही कक्षा को पढ़ाने के लिए दो-दो पीरियड लेने पड़ेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here