मध्यप्रदेश मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर चुप्पी

0
35
आज पीएम मोदी से मिलेंगे सीएम शिवराज
आज पीएम मोदी से मिलेंगे सीएम शिवराज

आज पीएम मोदी से मिलेंगे सीएम शिवराज

सिंधिया समर्थक 7 पूर्व विधायकों को मंत्रिमंडल में मिलेगी जगह

भोपाल – मध्यप्रदेश में मंगलवार को मंत्रिमंडल विस्तार होने की संभावना है। मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत केंद्रीय नेताओं से मिल रहे हैं। सीएम शिवराज आज शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात करेंगे। संभावना जताई जा रही है कि मंत्रिमंडल में 24-25 और मंत्री बनाए जाएंगे। जिसमें सिंधिया समर्थक सात नेताओं को मंत्री बनाया जाएगा।

गौरतलब है, कि रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत के साथ दिल्ली पहुंचे वहां मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर देर रात दो बजे तक गृहमंत्री अमित शाह के निवास पर तीनों की बैठक चली।

सिंधिया गुट से सात पूर्व विधायक बन सकते हैं मंत्री

मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की सरकार मंत्रिमंडल का विस्तार करने जा रही है। मंत्रिमंडल विस्तार में भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के गुट के सात और नेताओं को मंत्री बनाया जा सकता है। सूत्र बताते हैं कि सिंधिया अपने 9 समर्थकों को मंत्री बनाना चाहते थे, लेकिन भाजपा 7 पर सहमत हुई है।

नरोत्तम भी पहुंचे दिल्ली

मंत्रिमंडल विस्तार की कवायद के बीच नरोत्तम मिश्रा भी दिल्ली पहुंच गए हैं। इसको लेकर प्रदेश की राजनीति वीथिका में कयासों का दौर शुरू हो गया है। सूत्र बताते हैं कि आलाकमान नरोत्तम मिश्रा से कई मुद्दों पर चर्चा करना चाहता है।

तीनों मिल रहे हैं साथ-साथ

मुख्यमंत्री, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और संगठन महामंत्री केंद्रीय नेताओं से एक साथ मिल रहे हैं। इसको लेकर भी प्रदेश में तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। हालांकि रविवार को अमित शाह के साथ तीन घंटे तक चली बैठक में पहले सीएम शिवराज सिंह ने अमित शाह से व्यक्तिगत मुलाकात की। इसके बाद सुहास भगत और वीडी शर्मा को भी बुलाया गया। बैठक में मंत्रिमंडल के नामों पर विस्तार से चर्चा की गई। इसके पहले तीनो नेताओं ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर से भी मुलाकात की थी।

सिंधिया ने भी की सबसे मुलाकात

उधर, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी जेपी नड्डा, अमित शाह, नरेंद्र सिंह तोमर और शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने अपने समर्थक नेताओं को मंत्री बनाने के लिए जोर दिया। सिंधिया अपने समर्थक 9 पूर्व विधायकों को मंत्री पद देने का दबाब बनाया है।

विभाग भी दिल्ली से होंगे तय


शिवराज मंत्रिमंडल के सदस्यों के नाम दिल्ली से तय हो रहे हैं। इसके साथ ही मंत्रियों के विभाग भी दिल्ली से ही तय हो जाएंगे। शपथ समारोह के 24 घंटे के भीतर मंत्रियों को विभाग भी आवंटित कर दिए जाएंगे।

कल आएंगी आनंदीबेन


प्रदेश की प्रभारी राज्यपाल आनंदीबेन का सोमवार शाम को भोपाल आने का कार्यक्रम टल गया है।

संभवत: वे मंगलवार को ही आएंगी। इधर राज्यपाल आनंदीबेन को ठहराने को लेकर भी राजभवन

चिंतित हैं। क्योंकि राजभवन में अभी तक 30 से ज्यादा कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं, इस वजह

से राजभवन को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। ऐसे में अभी तक यह तय नहीं हो पाया है,

कि राज्यपाल, राजभवन में कहॉं ठहरेंगी या फिर किसी होटल या व्हीआईपी रेस्ट हाउस में रुकेंगी।

यह भी संभावना जताई जा रही है कि मुख्य न्यायाधीक्ष मंगलवार को आनंदीबेन को राज्यपाल पद

की शपथ दिला सकते हैं।

सोशल मीडिया पर तोमर को मुख्यमंत्री बनाने का मैसेज वॉयरल


उधर, सोशल मीडिया पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को मुख्यमंत्री बनाने का मैसेज वॉयरल हो

रहा है। वॉयरल मैसेज में कहा जा रहा है कि शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया को

केंद्र में मंत्री बनाया जा रहा है। शिवराज कृषि मंत्री और सिंधिया रेलमंत्री बनाए जा सकते हैं।

देवशयनी ग्यारस बुधवार से शुरु हो रही है। यह कहा जा रहा है कि मंगलवार को ही मंत्रीमंडल का

विस्तार करना मुहूर्त के अनुसार जरुरी है। वहीं दिल्ली में मंत्रीमंडल में जिनको शामिल किया

जाना है। उनके नाम फाइनल नहीं होने, राजभवन में शपथ ग्रहण की तैयारियों के लिए जो बैंठक

सोमवार की सुबह होना थी। उसको निरस्त कर दिए जाने से अटकलें शुरु हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here