राजीव गांधी को ‘भ्रष्टाचारी नंबर 1’ कहना आचार संहिता का उल्लंघन नहीं

0
30
आचार संहिता का उल्लंघन नहीं माना है।

नई दिल्ली – चुनाव आयोग ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को ‘भ्रष्टाचारी नंबर 1’ कहने को आचार संहिता का उल्लंघन नहीं माना है।

आयोग ने कहा कि प्रथम दृष्टया आदर्श आचार संहिता का स्पष्टतौर पर कोई उल्लंघन नहीं दिखता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ग्वालियर में एक जनसभा में राजीव गांधी को ‘भ्रष्टाचारी नंबर 1’ कहा था। इस बयान को लेकर विपक्ष काफी हमलावर है। इस लोकसभा चुनाव में विपक्ष ने पीएम मोदी के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन के कई मामले उठाए हैं और सभी में उन्हें EC से क्लीन चिट मिल गई है।

पीएम मोदी के खिलाफ विपक्षी दलों की EC से की जा रही शिकायतों पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने निशाना साधा है।

उन्होंने अपने ब्लॉग पोस्ट में मंगलवार को कहा कि आदर्श आचार संहिता के कारण अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार का हनन नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक दलों ने नया रुख अपना लिया है कि अपने विरोधियों के खिलाफ आदर्श आचार संहिता (MCC) के उल्लंघन का अधिक से अधिक आरोप लगाया जाए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हर बात में गलती ढूंढने वाली पार्टी बन गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here