शिवराज के ऑडियो को लेकर ट्विटर पर तेज हुआ घमासान

0
43
शिवराज के ऑडियो को लेकर ट्विटर पर तेज हुआ घमासान
शिवराज के ऑडियो को लेकर ट्विटर पर तेज हुआ घमासान

शिवराज बोले- पापियों का विनाश तो पुण्य का काम

तो कमलनाथ ने दिया जवाब- खुद को धर्म प्रेमी बताने वाले ही सबसे बड़े अधर्मी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Chief Minister Shivraj Singh chohan) के कांग्रेस सरकार को गिराने का ऑडियो वायरल होने के बाद

सियासी घमासान थमता नहीं दिख रहा है। मुख्यमंत्री चौहान के ट्वीट के बाद अब पूर्व मुख्यमंत्री

कमलनाथ (Kamal Nath)ने ट्विटर पर ही जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग खुद को बड़ा धर्म प्रेमी

बताते हैं, लेकिन सच्चाई ये है कि यही लोग सबसे बड़े अधर्मी हैं और पापी हैं।

गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने ट्वीट कर कहा था- पापियों का विनाश तो पुण्य का काम है।

हमारा धर्म तो यही कहता है। क्यों? बोलो, सियापति रामचंद्र की जय। चौहान के इस ट्वीट को

इंदौर की रेजीडेंसी में सांवेर के कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के बाद मचे सियासी घमासान से

जोड़कर देखा जा रहा है।

दिग्विजय (Digvijay)ने शिवराज को धन्यवाद कहा

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने शिवराज सिंह चौहान का धन्यवाद किया है। उन्होंने कहा कि

मध्य प्रदेश की सरकार गिराने के षड्यंत्र में मोदी और शाह भी शामिल थे, आपने (शिवराज) इसका

भंडाफोड़ कर दिया। इसके लिए शिवराजजी आपका धन्यवाद। उन्होंने ट्वीट के जरिए कहा- अब

यह साफ हो गया है कि जब मोदीजी को कोरोना से निपटने के लिए समय देना था, तब वे

मध्यप्रदेश की जनता द्वारा चुनी हुई सरकार को गिराने में व्यस्त थे।

भाजपा जिसे षड्यंत्र बता रही, उसे तुलसी सिलावट ने स्वीकारा

कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा कि जो भाजपाई शिवराजजी के इंदौर की रेजीडेंसी कोठी में

सांवेर के लोगों के बीच दिए गए भाषण के वायरल ऑडियो-वीडियो को फर्जी और कांग्रेस का षड्यंत्र

बता रहे हैं, उसे शिवराजजी के पास खड़े मंत्री तुलसी सिलावट स्वीकार कर रहे हैं, इसमें वे कह रहे

हैं कि, जो शिवराजजी ने कहा- वह एक-एक शब्द सही है। ये उनका मेरे प्रति प्यार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here