दिल्ली के दो बैंकों में 363 करोड़ का घोटाला

0
18
दिल्ली के दो बैंकों में 363 करोड़ का घोटाला
दिल्ली के दो बैंकों में 363 करोड़ का घोटाला

सीबीआई ने कनॉट प्लेस स्थित ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और राजेंद्र प्लेस स्थित आंध्रा बैंक में हुए 363.72 करोड़ के घोटाले के सिलसिले में करोलबाग के लालसंस ज्वेलर्स और लॉरेंस रोड स्थित श्रीनाथ रोलर मिल्स के निदेशकों, गारंटरों सहित बैंक के अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

सूत्रों का कहना है कि करोड़ों के घोटाले में शामिल लालसंस ज्वेलर्स के तार दुबई से जुड़े हैं।

इस मामले की तफ्तीश की जा रही है। सूत्रों के मुताबिक कनॉट प्लेस के हर्षा भवन स्थित ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स के डीजीएम राजीव कुमार की तरफ से सीबीआई मुख्यालय में 4 नवंबर को शिकायत दी गई थी। शिकायत में कहा था कि करोलबाग रैगरपुरा स्थित लालसंस ज्वेलर्स के निदेशक राजीव पॉल सिंह वर्मा, संजीव पॉल वर्मा, पूनम वर्मा, दुलारी वर्मा, केशोराम वर्मा सोने के कारोबार से जुड़े हैं।

कंपनी ने वर्ष 1994 में कंपनी ने मशीन से आभूषण बनाने शुरू किए थे।

बैंक की तरफ से कंपनी को सोल बैंकिंग के तहत ऋण के लिए कई तरह की सुविधाएं दी जा रही थी। बताया गया कि बैंक ने कंपनी को कुल 222.96 करोड़ का ऋण दिया था, जो उसने वापस नहीं लौटाया। सीबीआई का कहना है जांच के दौरान पता चला है कि करोड़ों क इस घोटाले में लालसंस की दुबई स्थित कंपनी पासी ज्वेलर्स के बीच सांठगांठ है। घोटाले में दोनों कंपनियों के निदेशकों और अज्ञात बैंक अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

बैंक अधिकारियों को फर्जी जानकारी दी थी इसके अलावा राजेंद्र प्लेस स्थित आंध्रा बैंक से लॉरेंस रोड स्थित श्रीनाथ जी रोलर मिल्स के निदेशक अमरचंद गुप्ता, रामलाल गुप्ता, राजकुमार गुप्ता, शाकुंतला देवी और कंपनी के खिलाफ 140.76 करोड़ के घोटाले का मामला दर्ज किया गया है। इस कंपनी ने बैंक ऋण लेने के दौरान अपने स्टॉक, बैलेंस सीट और अन्य खातों की फर्जी जानकारी बैंक अधिकारियों को दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here