Breaking news hindi today केशुभाई पटेल के निधन पर राष्ट्रपति ने गहरा दुख जताया

0
23
Breaking news hindi today
Breaking news hindi today President expresses deep grief over the death of Keshubhai Patel

Breaking news hindi today

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के निधन पर गहरा दुख जताया है। उन्होंने उनके परिवार को सांत्वना दी है। केशुभाई पटेल का गुरुवार की सुबह 92 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। अहमदाबाद के अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था।

राष्ट्रपति ने ट्विटर पर अपना शोक संदेश लिखा, केशुभाई जी का समाज सेवा के लिए संकल्प

Breaking news hindi today

और भारतीय लोकतंत्र में प्रतिबद्धता सभी के लिए अनुकरणीय है। उनके परिवार और दोस्तों के प्रति मेरी संवेदना। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के निधन के साथ, राष्ट्र ने एक महान नेता खो दिया है। उनका लंबा सार्वजनिक जीवन लाखों लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए समर्पित था, खासकर गांवों में। किसानों के लिए उन्होंने असाधारण काम किया।

MP Modi, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी पटेल की मौत पर दुख व्यक्त किया। पीएम मोदी ने कहा, वो एक महान नेता थे जिन्होंने समाज के हर वर्ग के लिए काम किया। उनका जीवन गुजरात की प्रगति और गुजरातियों को अधिकार दिए जाने के लिए समर्पित था।

उन्होंने कहा, उन्होंने इमरजेंसी का खुल कर विरोध किया था। किसानों की समस्या उनके दिल के

करीब थी। एक एमएलए, एक सांसद और फिर एक मंत्री के रूप में उन्होंने कई विधेयक किसानों के

हक में पास करवाए। अमित शाह ने भी केशुभाई पटेल के निधन पर दुख जताया और कहा,

भाजपा में रहते हुए उन्होंने गुजरात में संगठन को मजबूत करने में अभूतपूर्व योगदान किया।

सोमनाथ मंदिर के ट्रस्टी के रूप में उन्होंने हमेशा इस मंदिर के विकास के लिए काम किया। वो

हमेशा हमारी यादों में जिंदा रहेंगे।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, केशुभाई पटेल जी एक प्रभावी प्रशासक थे जिन्होंने सार्वजनिक

जीवन में अमिट छाप छोड़ी। मैं दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। दुख की इस घड़ी में मैं

उनके परिवार और शुभचिंतकोंके प्रति संवेदनाएं व्यक्त करता हूं। सिंह ने कहा कि लोगों की सेवा

के लिए केशुभाई पटेल की अटूट प्रतिबद्धता को हमेशा याद किया जाएगा। पटेल 1995 में और फिर

1998 से 2001 तक दो बार गुजरात के मुख्यमंत्री रहे। 2001 में नरेन्द्र मोदी उनकी जगह पर

मुख्यमंत्री बने थे। पटेल 6 बार विधायक रहे। पटेल के मोदी के साथ अच्छे संबंध थे, फिर भी

उन्होंने 2012 में गुजरात परिवर्तन पार्टी नाम से अलग पार्टी बनाई, जिसका 2014 में भाजपा में

विलय हो गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here