70 हजार के पार हुए कोरोनावायरस संक्रमित, इनमें से 23 हजार से अधिक महाराष्ट्र में

0
30
Corona viruses exceeded 70 thousand, out of which more
Corona viruses exceeded 70 thousand, out of which more

Corona viruses exceeded 70 thousand

कोरोना वायरस का संक्रमण सारे देश में अब तेजी से फैल रहा है। सोमवार को रात 10 बजे तक कोरोना वायरस संक्रमण के 3,540 नए मामले सामने आने के साथ ही पीड़ितों की संख्या बढ़कर 70,717 हो गई। इनमें से 2,291 लोगों की मौत हो चुकी है। इस प्रकार मरने वालों की संख्या 3.23% है। अब तक 22,406 मरीज ठीक हो चुके हैं अर्थात देश में रिकवरी रेट 31.68% है।
कोरोनावायरस से सर्वाधिक प्रभावित महाराष्ट्र में सोमवार को 1230 नए मामले सामने आए और 36 लोगों की मौत हो गई।

अकेले महाराष्ट्र में 23,401 कोरोनावायरस संक्रमित हैं, इनमें से 868 की मौत हो चुकी है, जबकि 4786 ठीक हो चुके हैं। इस प्रकार अकेले महाराष्ट्र में देश के 33.09% कोरोनावायरस संक्रमित हैं। इनमें से मायानगरी मुंबई में ही 14,521 संक्रमित हैं। गुजरात, तमिलनाडु और दिल्ली में भी संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इन तीनों राज्यों में कुल मिलाकर 23,777 कोरोनावायरस संक्रमित मरीज हैं।

इस तरह इन तीन राज्यों में देश के कुल संक्रमित मरीजों में से 33.62% मरीज पाए गए हैं।

तीनों राज्यों में से गुजरात में 513, तमिलनाडु में 53 और दिल्ली में 73 मरीजों की मृत्यु हुई है। वहीं राजस्थान, मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश प्रदेश में कुल मिलाकर 11,298 कोरोनावायरस संक्रमित मरीज सोमवार तक मिले हैं। इस प्रकार इन राज्यों में देश के 15.97% मरीज हैं। आंकड़ों पर गौर किया जाए तो कुल 7 राज्यों महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, दिल्ली, राजस्थान, मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश में ही देश के 84.68% कोरोनावायरस संक्रमित हैं।


देश के बाकी राज्यों में कुल मिलाकर 15.32% संक्रमित ही हैं। इन राज्यों अथवा केंद्र शासित प्रदेशों की संख्या 26 है। इनमें पश्चिम बंगाल, आंध्रप्रदेश, पंजाब और तेलंगाना जैसे राज्य भी शामिल है जहां पर कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या कुल मिलाकर 7233 है। इस प्रकार देखा जाए तो शीर्ष 11 राज्यों को छोड़कर देश के बाकी राज्यों में कोरोनावायरस का प्रकोप अब उतना नहीं है।

इन 11 राज्यों में भी बहुत से राज्यों में कोरोना वायरस नियंत्रित हो रहा है। लेकिन महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु और दिल्ली में इसका फैलाव बहुत तेजी से बढ़ रहा है। इसलिए सरकार को अब इन चार राज्यों को ध्यान में रखते हुए नई रणनीति पर काम करना होगा।


अच्छी बात यह है कि कुछ राज्यों में रिकवरी रेट बहुत अच्छा है। सारे देश के आंकड़े देखें तो 500 से ऊपर संक्रमित मरीजों की संख्या वाले राज्यों में से केरल में कोरोना वायरस का रिकवरी रेट सबसे अच्छा देखने में आया है। सरकार धीरे-धीरे बहुत से क्षेत्रों में ढील दे रही है। लेकिन इसका सबसे बड़ा खतरा यह है कि जो क्षेत्र पहले हॉटस्पॉट नहीं थे वह भी हॉटस्पॉट बन सकते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि मजदूरों के पलायन और उसके बाद के हालात पर गंभीरता से नजर रखने की आवश्यकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here