27 से 29 मार्च तक भोपाल और इंदौर में आईफा अवार्ड

0
50
IIFA IN MADHYA PRADESH,
IIFA IN MADHYA PRADESH,

IIFA IN MADHYA PRADESH -सलमान और जैकलीन ने सीएम कमल नाथ के साथ की घोषणा

Bhopal – अभिनेता सलमान खान और अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज ने मुख्यमंत्री कमल नाथ की उपस्थिति में फिल्मी दुनिया के प्रतिष्ठित आईफा अवार्ड की तिथियों की घोषणा की।

मिंटो हाल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में सलमान ने बताया कि इसका आयोजन 27 से 29 मार्च तक भोपाल और इंदौर में होगा। बता दें कि यह पहला अवसर है जब मध्यप्रदेश में पहली बार आईफा अवार्ड का आयोजन होने जा रहा है।


इंदौर में जन्मे सलमान ने इस मौके पर मध्य प्रदेश से जुड़ी अपनी यादें ताजा करते हुए कहा कि भोपाल आकर लगता है कि अपने घर में ही हूं। पैदा हुए इंदौर में और पले-बढ़े मुंबई में। सलमान ने कमल नाथ की तारीफ करते हुए उन्हें यंगर सीएम बताते हुए कहा कि इस राज्य को उनसे यंग सीएम नहीं मिल सकता।

सीएम ने खरीदा पहला टिकट

सीएम नाथ ने कहा कि वे चाहते हैं कि इस आयोजन के जरिए देशभर में मप्र का नाम हो। यह आयोजन इंदौर और भोपाल में होगा। दो दिन इंदौर और एक दिन भोपाल में कार्यक्रम होगा। कमल नाथ ने उम्मीद जताई कि इस आयोजन के जरिए फिल्मी दुनिया मध्य प्रदेश को पहचानेगी। कमल नाथ ने आईफा अवार्ड समारोह का पहला टिकट खरीदा। उन्होंने टिकट दिखाते हुए कहा कि इसका मतलब है, सभी को टिकट खरीदना होगा। इस पर सलमान मुस्कराते हुए बोले सर मेरा तो खानदान ही बड़ा है, मैं तो कंगाल ही हो जाऊंगा।


सलमान जैकलीन की झलक पाने उमड़े प्रशंसक


राजाभोज विमानतल पर सलमान और जैकलीन की एक झलक पाने के लिए बड़ी संख्या में फैन मौजूद थे। पहली बार मध्य प्रदेश में फिल्मी जगत का बड़ा कार्यक्रम आईफा अवार्ड को लेकर सरकार भी जोर-शोर से तैयारियां कर रही हैं।


आईफा अवार्ड से कई गुना मिलेगा राजस्व


भाजपा द्वारा उठाए जा रहे सवालों को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पीसीसी के मीडिया विभाग के पूर्व अध्यक्ष माणक अग्रवाल ने कहा है कि आईफा अवार्ड से मध्य प्रदेश की प्रतिष्ठा बढ़ेगी। साथ ही जितना खर्च सरकार करेगी, उससे कई गुना राजस्व आयोजन से मिलेगा।

अग्रवाल ने कहा कि आईफा अवार्ड के आयोजन से प्रदेश के कलाकारों, होटल और अन्य व्यवसायियों को फायदा होगा। भाजपा बेवजह हल्ला मचा रही है। उन्होंने आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत के भोपाल प्रवास पर अधिकारियों को सतर्क रहने की आवश्यकता भी जताई। उन्होंने कहा कि भागवत जहां जाते हैं, वहां शांति- व्यवस्था की स्थिति पर विपरीत प्रभाव पड़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here