आंधी-तूफान से उत्तरी राज्यों में तबाही – अब तक 62 की गई जान, आज भी अलर्ट

0
71

आंधी-तूफान

नई दिल्ली। देशभर में रविवार शाम आए अंधड़ और तूफान ने अब तक 60 से ज्यादा लोगों की जान ले ली हैं। उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्रप्रदेश और राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रविवार देर शाम आंधी-तूफान और बारिश ने जमकर कहर बरपाया। देश में आंधी-तूफान के कारण मौत का आंकड़ा बढ़ गया है। अभी तक पूरे देश में 62 लोगों की मौत हो गई है, इसके अलावा कई लोग घायल हुए हैं। अकेले उत्तरप्रदेश में मौत का आंकड़ा 40 के पार पहुंच गया है। मौसम विभाग ने अगले दो से तीन दिन के लिए अलर्ट जारी किया है। दिल्ली-एनसीआर में धूल भरी आंधी और बारिश की वजह से करीब 70 उड़ानों के मार्ग बदलने पड़े हैं। फ्लाइट्स की आपातकालीन लैंडिंग भी करानी पड़ी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंधी-तूफान के कारण हुई मौतों पर दुख जताया है। प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा कि देश के कई हिस्सों में आंधी-तूफान के कारण हुई मौतों पर दुखी हूं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कई जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने की भी खबरें आईं।

उत्तर प्रदेश के संभल में स्थित राजपुरा में ऐसी ही आकाशीय बिजली गिरने के बाद आग लग गई। आग इतनी भयानक थी कि सैकड़ों घर इस आग में तबाह हो गए। मौके पर मौजूद पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आग बुझाने के लिए दमकल की तीन गाड़ियों को लगाया गया है। दिल्ली-एनसीआर में तूफान के कहर का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यहां अंधड़ की गति 109 किमी प्रति घंटा थी। इससे फ्लाइट, रेल और मेट्रो का संचालन तो बुरी तरह प्रभावित हुआ ही बल्कि सैकड़ों पेड़ भी जड़ से उखड़ गए। एनसीआर में आंधी के चलते हुए हादसों में 4 लोगों की मौत हो गई, जबकि 26 घायल हो गए हैं। अबतक यूपी में सबसे ज्यादा 40, बंगाल में 12 और दिल्ली में 4 लोगों की मौत हुई है। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में आकाशीय बिजली की चपेट में आकर 9 लोगों की मौत हुई है।
आंधी-तूफान से जो राज्य सबसे ज्यादा प्रभावित हैं उनमें पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और राष्ट्रीय राजधानी मुख्य रूप से शामिल हैं। आंधी-तूफान की संभावना को लेकर राज्यों का प्रशासनिक अमला अलर्ट पर है। विभागों को किसी भी विपरीत स्थिति से निपटने के लिए जरूरी इंतजाम करने को कहा गया है। आपको बता दें कि मौसम विभाग ने तमाम राज्यों में 15 मई तक धूल भरी आंधी-तूफान और बारिश की संभावना जताई है।
वहीं पटना के दीघा थानाक्षेत्र में तेज आंधी-बारिश के कारण दीवार गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई वहीं तीन लोग घायल हो गए हैं। छपरा जिले में भी देर रात आए आंधी-तूफान के कारण जान-माल के नुकसान की खबर है। जिले के सदर इलाके में पेड़ गिरने से उसके नीचे दबकर एक व्यक्ति की मौत हो गई है और तीन लोग घायल हो गए हैं। मुजफ्फरपुर जिले के पारु थाना इलाके में देर रात आई आंधी और तूफान से एक घर की दीवार गिर गई जिसके नीचे दबकर एक बुजुर्ग की मौत हो गई, वहीं पेड़ गिरने से एक युवक की भी मौत उसके नीचे दबने से हो गई है। किशनगंज में सोमवार की सुबह 5 बजे से तेज हवा के साथ लगातार बारिश हो रही है। बारिश से मक्के की फसल को नुकसान पहुंचा है। ग्रामीण इलाकों में बिजली आपूर्ति बाधित है। जान-माल की क्षति का अभी तक कोई सूचना नहीं है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here