SC/ST Act को लेकर सड़को पर उतरे लोग, सुरक्षा को देखते हुए लागु की गई धारा 144

0
223
SC ST ACT - Bharat Bandh
SC/ST Act को लेकर किया जा रहा हैं विरोध, कई राज्यों में अलर्ट जारी

Bharat Bandh – SC-ST Act में संशोधन कर उसे मूल स्वरूप में बहाल करने के विरोध में सवर्ण समुदाय के संगठनों ने आज यानी 6 सितंबर को भारत बंद बुलाया हैं।

देश के कई इलाकों से सवर्ण संगठनों के भारत बंद के मद्देनजर एहतियातन कदम उठाए गये हैं। वहीं गुरुवार सुबह से ही देश के अलग-अलग हिस्सों में इसका असर दिखना भी शुरू हो गया। मध्यप्रदेश के कई जिलों में पहले ही धारा 144 लागू कर दी गई हैं। वहीं अन्य राज्यों में भी सरकारें अलर्ट पर हैं।

क्या है SC-ST Act?

अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजातियों के लोगों पर होने वाले अत्याचार और उनके साथ होने वाले भेदभाव को रोकने के मकसद से अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार रोकथाम) अधिनियम, 1989 बनाया गया था। जम्मू कश्मीर को छोड़कर पूरे देश में इस एक्ट को लागू किया गया। इसके तहत इन लोगों को समाज में एक समान दर्जा दिलाने के लिए कई प्रावधान किए गए और इनकी हरसंभव मदद के लिए जरूरी उपाय किए गए। इन पर होने वाले अपराधों की सुनवाई के लिए विशेष व्यवस्था की गई ताकि ये अपनी बात खुलकर रख सके।

इन राज्यों में देखा जा रहा हैं इसका असर

मध्यप्रदेश

भारत बंद को देखते हुए मध्यप्रदेश के दस जिलों में धारा 144 लागू की गई हैं।

मध्यप्रदेश के भिंड, ग्वालियर, मोरेना, शिवपुरी, अशोक नगर, दतिया, श्योपुर, छत्तरपुर, सागर और नरसिंहपुर में धारा 144 लागू की गई हैं। इस दौरान यहां पर पेट्रोल पंप, स्कूल, कॉलेज बंद रहेंगे। गौरतलब है कि पिछली बार 2 अप्रैल को भारत बंद एससी/एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में दलित संगठनों ने बुलाया था। तब सबसे ज्यादा हिंसा मध्य प्रदेश के ग्वालियर और चंबल संभाग में हुई थी। इस वजह से इस बार मध्य प्रदेश प्रशासन इस बार भारत बंद को देखते हुए पूरी तरह सतर्क हैं। हालांकि, दलितों के बंद के विरोध में उस वक्त भी कुछ दिन बाद ही सवर्णों ने बंद का आह्वान किया था।

बिहार

बिहार में भी सुबह से ही इसका असर देखा जा रहा हैं। बता दे की बिहार के खगड़िया में सवर्णों के समूह ने NH31 पर जाम लगा दिया हैं।

इसका अलावा यहां पर लोग मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। लोगों की मांग है कि सुप्रीम कोर्ट ने जो आदेश दिया है उसका पालन किया जाए। बिहार के लखीसराय जिले में भी लोगों ने NH-80 को जाम कर दिया हैं। इतना ही नहीं बल्कि बिहार के आरा में सवर्णों ने आरा रेलवे स्टेशन के पास लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस को रोक दिया गया हैं। यहां लोगों का कहना है कि देश में SC/ST कानून में जल्द बदलाव नहीं किया गया तो इससे भी बड़ा आंदोलन देश में होगा।

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश में सुरक्षा को लेकर कड़े इंतेज़ाम किया गए हैं।

राजधानी लखनऊ समेत बिजनौर, इलाहाबाद, आजमगढ़, बरेली जैसे कई शहरों में पुलिस को अलर्ट पर रखा गया हैं। ताकि किसी भी तरह के हालातों से निपटा जा सके। इसके अलावा राज्य में कुल 11 जिलों में अलर्ट जारी किया गया हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here