कांग्रेस के लिए ‘अच्छे दिन’ का संकेत है कर्नाटक उप-चुनाव में भाजपा की पराजय

0
80
BJP's defeat in Karnataka

मुंबई-भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कर्नाटक उप-चुनाव में सहयोगी पार्टी भाजपा की हालिया पराजय पर शिवसेना ने तंज कसा है कि यह पराजय इस बात का संकेत है कि अगले साल होने वाले आम चुनाव में कांग्रेस के लिए अच्छे दिन लौट आएंगे। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना ने कहा कि देश में हुए लोकसभा और विधानसभा उप-चुनाव में भाजपा को मिली पराजय के चलते आम चुनाव से पहले कांग्रेस में एक नया उत्साह पैदा हो जाएगा।

पार्टी के मुखपत्र “सामना” के संपादकीय में शिवसेना ने कहा कि शायद अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के चुनावी वादे की अनदेखी करने और “कुछ दूसरे एजेंडा थोपने” के कारण ही भाजपा को कर्नाटक में पराजय का सामना करना पड़ा है। भाजपा का उपहास उड़ाते हुए संपादकीय में लिखा गया है कि पार्टी को यह सोचना चाहिए कि आखिर क्यों उसकी “हार का सिलसिला” जारी है, जबकि बकौल भाजपा उसके नेतृत्व वाली सरकार ने देश में कुछ “क्रांतिकारी बदलाव” किए हैं। भाजपा को झटका देते हुए जनता दल सेक्यूलर (जेडीएस)-कांग्रेस गठबंधन के उम्मीदवारों ने मंगलवार को पांच में से चार सीटों पर जीत दर्ज की है।

पिछले सप्ताह हुए इन उप-चुनावों में लोकसभा की तीन और विधानसभा की दो सीटें थी। यह हार भाजपा के लिए कहीं अधिक पीड़ादायक है, क्योंकि वह अपनी गढ़ मानी जाने वाली बेल्लारी सीट कांग्रेस के हाथों हार गई। शिवसेना ने कहा कि उपचुनावों में उत्तर प्रदेश से जो हार का सिलसिला शुरू हुआ था, उसके बारे में भाजपा को खुद अध्ययन और आत्मावलोकन करना होगा। बकौल सत्तारूढ़ पार्टी, जब देश में सब कुछ अच्छा हो रहा और क्रांतिकारी बदलाव हो रहे हैं, तो ऐसे में उसकी हार का सिलसिला रुक क्यों नहीं रहा है? पार्टी ने कहा भाजपा की विभिन्न उप-चुनावों में होने वाली हार कांग्रेस में नई जान फूंक देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here