काजू या पिस्ता खाने से दिल की बीमारी का खतरा होगा कम -अध्ययन कर्ताओं ने किया दावा

0
38
cashew or pistachio
Eating cashew or pistachio will reduce the risk of heart disease

एक अध्ययन में में बताया गया है कि काजू या पिस्ता खाने से डायबिटीज, हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा काफी कम होता है। स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक, जिन लोगों ने हफ्ते में पांच दिन नट्स का सेवन किया उनमें डायबिटीज की बीमारी का खतरा 34 फीसदी और हार्ट अटैक का खतरा 17 फीसदी कम पाया गया। इसके अलावा ट्री नट्स जैसे- पाइन नट्स, पेकंस, हैजेल नट्स आदि भी बहुत फायदेमंद होते हैं।

स्टडी में ये भी बताया गया है कि रोजाना नट्स का सेवन करने से कोरोनरी हार्ट डिजीज

जैसे आर्टरीज के सख्त पड़ जाने का खतरा भी 20 फीसदी तक कम होता है। वहीं, इनमें से किसी बीमारी के कारण मौत होने का खतरा 31 फीसदी तक कम होता है।स्टडी के मुख्य लेखक और हार्वर्ड टी। एच चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के वैज्ञानिक डॉक्टर गैंग लियू ने बताया, हमारी स्टडी से इस बात की पुष्टि होती है कि डाइट में नट्स शामिल करने से डायबिटीज के मरीजों में दिल संबंधित बीमारी और जल्दी मौत होने का खतरा काफी कम होता है।

स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया है कि टाइप-2 डायबिटीज के कारण कोलेस्ट्रोल, दिल की बीमारी और स्ट्रोक होने का खतरा काफी बढ़ जाता है। बता दें, नट्स में भरपूर मात्रा में न्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं, जिसमें अनसैचुरेटेड फैटी एसिड, फाइटोकेमिकल्स, फाइबर, विटामिन, मिनरल्स, कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम आदि मौजूद होते हैं।

नट्स के सेवन से सिर्फ दिल की बीमारी और डायबिटीड ही नहीं, बल्कि कैंसर जैसी घातक बीमारी के खतरे को भी कम किया जा सकता है।

स्टडी के दौरान शोधकर्ताओं ने 16,217 पुरुष और महिलाओं से बीमारी से पहले और बाद की डाइट के बारे में पूछा। शोधकर्ताओं ने जानने की कोशिश की लोगों ने कितनी मात्रा में नट्स का सेवन किया। नतीजों में सामने आया कि सभी प्रकार के नट्स से लोगों की सेहत में काफी सुधार देखने को मिला। वैज्ञानिकों का कहना है कि सेहत को दुरुस्त रखने के लिए नट्स का सेवन बहुत जरूरी होता है। इसमें सभी प्रकार के जरूरी न्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं, जो शरीर के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाकर कई बीमारियों से सुरक्षित रखते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here