भारत के खिलाफ किया था टेस्ट डेब्यू, अब भारत के खिलाफ करेंगे अपना सफर ख़त्म

0
32
Alastair Cook - Former Captain
एलिस्टेयर कुक का बड़ा फैसला, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लेंगे संन्यास

Former Captain – इंग्लैंड के पूर्व कप्तान रह चुके एलिस्टेयर कुक ने एक बड़ा फैसला लिया हैं।

इंग्लैंड के महान बल्लेबाज एलिस्टेयर कुक ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया हैं। दरअसल उन्होंने इतना बड़ा फैसला खराब फॉर्म के कारण लिया। बता दे की भारत के खिलाफ होने वाला सीरीज़ का आखिरी टेस्ट उनका भी आखिरी मैच होगा। बता दे की एलिस्टेयर कुक ने रिकॉर्ड 59 टेस्ट मैचों में इंग्लैंड की कप्तानी भी की। इसके अलावा उन्होंने 69 एकिदवसीय अंतरराष्ट्रीय और एक टी20 अंतरराष्ट्रीय में भी इंग्लैंड की कप्तानी कर चुके हैं।

इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा टेस्ट खेलने और सबसे ज्यादा टेस्ट रन बनाने वाले 33 वर्षीय कुक के संन्यास के फैसले के बाद उनके फैंस काफी निराश हैं। गौरतलब है कि टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में कुक विश्व में छठे और सबसे ज्यादा टेस्ट खेलने के मामले में सातवें स्थान पर हैं।

बता दे की इस महान खिलाड़ी ने साल 2006 मार्च में नागपुर में भारत के ख़िलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था।

इस डेब्यू मैच में इन्होने शतक भी जड़ा था। एलिस्टेयर कुक ने 160 टेस्ट मैचों में 32 शतक और 56 अर्धशतक के साथ रिकॉर्ड 12254 रन बनाये। कुक ने इसके अलावा 294 के सर्वाधिक स्कोर के साथ पांच दोहरे शतक भी लगाए हैं।

इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा टेस्ट खेलने और रन बनाने के अलावा कुक के नाम इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा शतक भी दर्ज़ हैं। इतना ही नहीं बल्कि भारत के खिलाफ कुक ने इशांत शर्मा के रूप में टेस्ट क्रिकेट में एक विकेट भी हासिल किया हैं। बात करें कुक के एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच की तो उन्होंने 92 मैचों में 3204 रन बनाए हैं। जिसमें 5 शतक और 19 अर्धशत शामिल हैं। वहीं चार टी20 अंतरराष्ट्रीय में 61 रन बनाये।

हालही में संन्यास को लेकर एलिस्टेयर कुक ने एक बयान दिया हैं – जिसमे उन्होंने कहां की पिछले कुछ महीनों से काफी सोच विचार करने के बाद आख़िरकार मैंने भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने का फैसला लिया हैं।

मैंने काफी महान खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर किया और उस ड्रेसिंग रूम को छोड़ने का फैसला सबसे मुश्किल रहा। मेरे लिए ये काफी दुखद दिन है लेकिन मैंने जितना सोचा था, उससे ज्यादा उपलब्धि हासिल की और इसके लिए मुझे काफी ख़ुशी हैं।

उन्होंने आगे कहां की बचपन से लेकर इंग्लैंड के लिए खेलने तक क्रिकेट मेरे लिए सबकुछ रहा। मैंने अपनी पूरी ज़िन्दगी में क्रिकेट से बेहद प्यार किया। मैं काफी लोगों का शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ और उसमें बार्मी आर्मी एवं ग्राहम गूच का जिक्र जरूर करूंगा। मेरे परिवार ने 12 साल के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में मेरा काफी साथ दिया हैं। परिवार के अलावा मैं एसेक्स काउंट क्रिकेट क्लब को भी धन्यवाद देना चाहता हूँ और 2019 से मैं पूरी तरह से वहां समय दे पाउँगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here