इन्दौर में नवजौत सिंह सिद्धू ने कहा ‘मामा तो गयो

0
51
Navjot Singh Sidhu

इन्दौर वाले ऐसा छक्का मारेंगे, भाजपा वाले बाउण्ड्री के बाहर हो जायेंगे

इन्दौर – राजनीति में जब अहंकार बढ़ता है तो बदलाव होता है, भाजपाईयों का सत्ता के मद चूर होकर अहंकार बढ़ गया है, अब मतदाता बदलाव के लिए आतुर हो चुकी है। लोकतंत्र के इस महायज्ञ में अब कांग्रेस के अस्तित्च की लड़ाई शुरू हो गयी है, व्यक्ति मंत्री बनकर पूर्व हो जाता है, लेकिन कार्यकर्ता कभी पूर्व नहीं होता। कांग्रेस के अस्तित्व के लिए कार्यकर्ता लोकतंत्र में हावी गुण्डातंत्र को समाप्त कर दें।

उक्त विचार पूर्व क्रिकेटर

कांग्रेस के स्टार प्रचारक एवं पंजाब के नगरीय विकास मंत्री नवजौतसिंह सिद्धू ने कांग्रेस प्रत्याशी सुरजीतसिंह चड्डा के समर्थन में हजारों की संख्या में उपस्थित जनमानस को सम्बोधित करते हुए अपने कामेडियन अंदाज में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के शीर्ष नेतृत्व अमित शाह से लेकर महापौर मालिनी गौड़ तक को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि लोकतंत्र में अंहकार का कोई स्थान नहीं होता है, अंहकार व्यक्ति को ले डूबता है।

भाजपाईयों को सत्ता का अहंकार हो गया है।

यहीं अहंकार भाजपा को नेस्तनाबूत करने में कामयाब हो जाएगा। श्री सिद्धू ने कहा कि जिसे हम हार समझे थे, गला सजाने को वो आज जहरीला सांप बन गया है। भाजपा ने व्यापम से लेकर डम्पर सहित अनेक घोटाले एवं भ्रष्टाचार कर खूब पैसा खाया लेकिन डकार तक नहीं ली। उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि मोदी एवं श‍िवराज सरकार के नुमाइंदे कहते हुए हम मेक इन इण्डिया बनाएंगे, लेकिन बाहर से कुछ नहीं लाएगें, जबकि आज हर कोई चीज विदेश से बुलवाई जा रही है। तो यहां क्या पकोड़े बनाएगें।

सिद्धू ने कहा कि लोकतंत्र में जब अहंकार बढ़ जाता है तो सिंहासन हिल जाता है

श‍िवराज का अंहकार उनका सिंहासन हिला कर उन्हें गद्दी से पछाड़ देगा। इन्दौर वाले ऐसा छक्का मारेंगे, भाजपा वाले बाउण्ड्री के बाहर हो जायेंगे, ‘मामा तो गयो उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी के नाम पर महापौर साहिबा ने बसे-बसाये लोगों के घर उजाड़ दिए, कांग्रेस के कार्यकर्ता अब लोकतंत्र के अंहकारियों को उखाड़ फेंकेगें। नाच मेरी बुलबुल तुझे पैसा मिलेगा गीत गाते हुए सिद्धू ने मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मोदी तुम अम्बानी, अड़ानी और माल्या की कटपुतली बन गये हो।

नोटबंदी का जिक्र करते हुए सिद्धू ने कहा कि नोटबंदी का निर्णय देश के लिए सबसे बड़ा घातक निर्णय साबित हुआ है। इसमें विदेषों का काला धन तो वापस नहीं आया, अमित शाह, अम्बानी, अड़ानी, विजय माल्या सहित भाजपा से जुड़े अनेक पूंजिपतियों का काला धन सफेद हो गया।

पूर्व क्रिकेटर एवं कांग्रेस के स्टार प्रचार नवजौत सिद्धू ने एक किस्सा सुनाते हुए कहा कि हवाई जहाज में नरेन्द्र मोदी, अमित शाह और षिवराज बैठे थे उसी हवाई जहाज में सुरजीतसिंह चड्डा भी बैठे थे, मोदी ने कहा एक सौ का नोट फेको तो इन्दौर वालों की जिंदगी सुधर जाएगी, अमित शाह ने कहा सौ के दस नौट फेको तो दस लोगों की जिंदगी सुधर जाएगी, इस पर षिवराज बोले एक-एक के सौ सिक्के फेको तो सौ लोगों की जिंदगी सुधर जाएगी। मोदी बोले वाह श‍िवराज तू तो चिदम्बरम का भी बाप निकला। तो हमारे भाई सुरजीतसिंह चड्डा बोल पड़े तुम तीनों को अगर नीचे फेंक दू तो हिन्दुस्तान की जिंदगी बन जाएगी।

इस अवसर पर कांग्रेस प्रत्याशी सुरजीतसिंह चड्डा ने उपस्थित जनसमूदाय को सम्बोधित करते हुए गुरूनानक देवजी के प्रकटोत्सव की लख-लख बधाई देते हुए कहा कि मैं आप सभी की और से इन्दौर की पावन धरती पर सिद्धूजी का स्वागत करता हूँ। उन्होंने कहा कि विधानसभा 4 में सिंधी, ब्राम्हण, वैष्य सहित हिन्दू-मुस्लीम सहित सर्वधर्म समभव वाले क्षेत्र में दो प्रत्याशी महापौर एवं क्षेत्रीय विधायक के सामने चुनाव लड़ रहा हूँ।

भाजपा वाले इस विधानसभा को अयोध्या कहती है, मैं कहता हूँ भाजपाईयों ने इस सर्वधर्म समभाव वाले क्षेत्र को हस्तिनापुर बना दिया है, यहां कौरवों की सेना (गौड़ परिवार के सदस्य) गुण्डागर्दी के साथ ही अवैध वसूली कर रहे है। सुरजीत ने कहा कि यह व्यापारिक क्षेत्र है, यहां का हर व्यापारी नोटबंदी, जीएसटी की मार से परेशान है। महापौर एवं विधायक महोदया इन्दौर से गाय ले गयी और आवारा कुत्तों को छोड़ दिया है। विधानसभा क्षेत्र 4 में विधायकजी ने कोई बड़ी योजना यहां के लिए नहीं बनाई है।

इस अवसर पर सर्वश्री शहर कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्ष विनय बाकलीवाल, पंडित कृपाशंकर शुक्ला, भंवर शर्मा, सुरेश मिण्डा, राजेश शर्मा, शैलेष गर्ग, अर्चना जायसवाल, विवेक खंडेलवाल, प्रकाश महावर कोली, जौहर मानपुरवाला, सरवर खान, दीपक राजपूत, गोपाल दरियानी, शांता दुबे, लखन पुरस्वानी, गोपाल कोड़वानी, परमिंदर कौर खनूजा, मुकेष ठाकुर, मिन्ना भाटिया, सन्नी राजपाल, इम्तियाज बेलिम, गट्टू यादव, गिरीष जोषी सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन देवेन्द्रसिंह यादव ने एवं अंत में आभार लखन पुरस्वानी ने माना।