South Africa पर जीत के साथ Pakistan की उम्मीद बरकरार

0
42
दक्षिण अफ्रीका को 49 रनों से पराजित कर पाकिस्तान ने
दक्षिण अफ्रीका को 49 रनों से पराजित कर पाकिस्तान ने

लंदन – विश्व कप क्रिकेट के एक लीग मैच में दक्षिण अफ्रीका को 49 रनों से पराजित कर पाकिस्तान ने सेमीफाइनल की दौड़ में स्वयं को बनाए रखा है।

पाकिस्तान (Pakistan team )ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और निर्धारित 50 ओवर में 308 रन का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया। जवाब में (South Africa)दक्षिण अफ्रीका की टीम निर्धारित 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 259 रन ही बना सकी।

309 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका की टीम की शुरुआत खराब रही।

हाशिम अमला (Hashim Amla) दूसरे ओवर की पहली गेंद पर मोहम्मद आमिर (Mohammad Aamir) द्वारा एलबीडब्ल्यू आउट कर दिए गए। इसके बाद दूसरे विकेट के लिए क्विंटन डी कॉक और फाफ डू प्लेसी ने मिलकर 87 रन की साझेदारी की। किंतु शादाब खान (Shadab khan)द्वारा क्विंटन डी कॉक को इमाम उल हक के हाथों कैच कराने के साथ ही यह साझेदारी टूट गई। डी कॉक ने 60 गेंद खेलकर तीन चौके और दो छक्के की सहायता से 47 रन बनाए।

फाफ डू प्लेसी ने 63 रन का योगदान दिया, उन्होंने 79 गेंद खेली और 5 चौके लगाए।

उनका विकेट मोहम्मद आमिर ( Mohammad Aamir )ने उन्हें सरफराज अहमद के हाथों कैच कराकर लिया। निचले क्रम के बल्लेबाजों में रैसी वैन डर डुसेन – मिलर – एन्डिले फेहलुकवेओ ने क्रमशः 36 – 31 – 46 रन का योगदान दिया। लेकिन रन रेट के दबाव के आगे दक्षिण अफ्रीका की बल्लेबाजी की कमर टूट गई और दक्षिण अफ्रीका 50 ओवर्स में 259 रन ही बना पाया तथा 49 रन से पराजित हो गया।
पाकिस्तान के लिए वहाब रियाज और शादाब खान ने सबसे ज्यादा तीन- तीन विकेट लिए। मोहम्मद आमिर को दो, शाहीन अफरीदी को एक विकेट मिले।


इससे पहले बाबर आजम और फिर सोहैल हैरिस के शानदार अर्धशतकों की बदौलत पकिस्तान ने आईसीसी विश्व कप-2019 के एक कड़े मुकाबले में ऐतिहासिक लॉर्ड्स मैदान पर दक्षिण अफ्रीका के सामने जीत के लिए 309 रन का लक्ष्य दिया।

टॉस जीतकर पहले बल्ला थामने के बाद पाकिस्तान के शुरुआती दो ओवर जरूर पिच को पढ़ने व भांपने में गुजरे।

और जब यह स्पष्ट हो गया कि यह रनों से भरपूर पिच है और बल्ले पर गेंद टनाटन आ रही है, तो रबाडा के तीसरे ओवर में फखर जमां ने उन्हें दो बार सीमापार पहुंचाने में गुरेज नहीं किया। दूसरे छोर पर खड़े इमाम ने भी साथी ओपनर से प्रेरणा लेते हुए लुंगी एंगिडी के चौथे ओवर में तीन चौके लगाए।

यहां से दोनों की सारी हिचक खत्म हो गई और पहला पावर-प्ले यानी दस ओवर खत्म होने तक जमां और इमाम के बल्ले से कई बेहतरीन शॉट देखने को मिले। और इन दोनों ने 10 ओवर खत्म होने तक पाकिस्तान का स्कोर बिना किसी नुकसान के 58 रन तक पहुंचा दिया।

इस समय इमाम 30 पर थे, तो फखर जमां के 27 रन थे। फखर जमां (44 रन, 50 गेंद, 6 चौके, 1 छक्का) और इमाम-उल-हक (44 रन, 58 गेंद, 6 चौके) ने पहले विकेट के लिए 81 रन जोड़कर अपनी टीम को मजबूत शुरुआत दी, तो इसके बाद मिड्ल ऑर्डर में बाबर आजम (69 रन, 80 गेंद, 7 चौके) और फिर सोहैल हैरिस (89 रन, 59 गेंद, 9 चौके, 3 छक्के) ने आतिशी पारी से मजबूत आधार को एक बड़े स्कोर में बदलने में अहम भूमिका निभाई।

हालांकि, ठोस शुरुआत को देखते हुए कहा जा सकता है कि पाकिस्तान 30-35 रन और बनाने चाहिए थे, लेकिन कोटे के 50 ओवरों में 8 विकेट पर 308 रन एक ऐसा स्कोर है, जिसे उसकी गेंदबाजी को देखते हुए एक मजबूत स्कोर कहा जा सकता है। दक्षिण अफ्रीका के लिए लुंगी एंगिडी ने सबसे ज्यादा तीन, तो इमरान ताहिर ने दो विकेट लिए। फेहलुकवायो और मार्कराम को एक-एक विकेट मिला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here