एपीजे अब्दुल कलाम के बाद किसी भारतीय राष्ट्रपति की पहली बुल्गारिया यात्रा

0
55
ram nath kovind - President
आठ दिनों की विदेशी यात्रा पर रवाना हुए राष्ट्रपति

President – रविवार को राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद आठ दिवसीय की लंबी विदेश यात्रा पर रवाना हो चुके हैं।

विदेश मंत्रालय के अनुसार, इस दौरान वे इन तीनों यूरोपीय देशों के नेतृत्व से बातचीत करेंगे, ताकि द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती दी जा सके। बताया जा रहा हैं की राष्‍ट्रपति साइप्रस, बुल्‍गारिया और चेक रिपब्‍लिक जाएंगे। राष्‍ट्रपति सबसे पहले साइप्रस जाएंगे।

रामनाथ कोविंद साइप्रस के राष्ट्रपति निकोस एन एनास्टासिएड्स के साथ मुलाकात करेंगे। साथ ही विभिन्न मुद्दों पर बातचीत भी करेंगे, जिसमें द्विपक्षीय व्यापार बढ़ाने का मुद्दा शामिल होगा।

इसके अलावा राष्ट्रपति कोविंद 2-4 सितंबर को अपनी साइप्रस यात्रा में उस देश की प्रतिनिधि सभा को संबोधित करेंगे।

साथ ही वे साइप्रस विश्वविद्यालय में व्याख्यान देंगे और वहां रह रहे भारतीयों को भी संबोधित करेंगे। वहीं इसके बाद बुल्गारिया की यात्रा करेंगे।बुल्गारिया की ये यात्रा 4-6 सितंबर तक होगी। बता दे की 2003 में तत्कालीन राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के दौरे के बाद किसी भारतीय राष्ट्रपति की ये पहली बुल्गारिया यात्रा होगी। इस यात्रा के दौरान कोविंद बुल्गारिया के राष्ट्रपति रूमेन रादेव से विभिन्न मुद्दों पर बातचीत करेंगे।

इसके अलावा 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति कोविद सोफिया विश्वविद्यालय में छात्रों को ‘शिक्षा बदलाव का माध्यम और साझा उत्तरदायित्व’ विषय पर संबोधित करेंगे।

जानकारी के मुताबिक, राष्ट्रपति की यात्रा के दौरान भारत-बुल्गारिया व्यापार मंच की बैठक होगी, जिसमें कारोबार जगत के करीब 250 प्रतिनिधियों के हिस्सा लेने की उम्मीद हैं।

बता दे की यात्रा के तीसरे चरण में राष्ट्रपति कोविंद चेक रिपब्‍लिक जाएंगे और वहां के राष्ट्रपति मिलो जेमन और प्रधानमंत्री अंद्रेज बाबीस से मुलाकात करेंगे। इस मुलाकात के दौरान कुछ मुद्दों पर चर्चा की जा सकती हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here