Texas – गोलीबारी में 20 की मौत, संदिग्ध हिरासत में

0
42
firing incident in the city of El Paso
Texas - 20 killed in shootout, suspect in custody

अमेरिकी प्रांत टेक्सास के अल पासो शहर में भीड़ पर गोलीबारी की एक घटना में 20 लोगों की मौत हो गई और 24 लोग घायल हो गए।

प्रशासन ने बताया कि 21 वर्षीय एक संदिग्ध अब पुलिस की हिरासत में है। यह नरसंहार शनिवार को शहर में सीलो विस्टा मॉल (Vista Mall )के पास एक वालमार्ट स्टोर में हुआ। यह स्थान अमेरिका-मेक्सिको (US-Mexico )सीमा से कुछ ही मील की दूरी पर स्थित है।

एक 21 वर्षीय संदिग्ध को हिरासत में लिया गया है और हमलावर वही अकेला बंदूकधारी माना जा रहा है। टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबोट ने संदिग्ध को पकड़ने वाले पुलिस अधिकारियों की प्रशंसा की। अल पासो की 6,80,000 की आबादी में 83 प्रतिशत लोग हिस्पेनिक मूल के हैं।

अल पासो के पुलिस प्रमुख ग्रेग एलेन ने कहा कि एक हमलावर की सूचना सुबह 10.39 बजे मिली, और कानून प्रवर्तन अधिकारी छह मिनट के अंदर मौके पर पहुंच गए।

जिस समय हमला हुआ उस समय वालमार्ट (walMart )में स्कूल संबंधित वस्तुएं खरीदने वालों की भीड़ थी।

एलेन ने कहा कि मृतकों की शिनाख्त की जा रही है लेकिन मृतकों और घायलों में कई आयुवर्ग के लोग हैं।

उन्होंने कहा कि इस घटना को ‘घृणा अपराध’ कहा जा सकता है।

मेक्सिको के राष्ट्रपति मैनुएल लोपेज (Manuel Lopez) ओब्रेडोर ने कहा कि गोलीबारी में मरने वालों में तीन मेक्सिको के हैं। लेकिन इसकी पुष्टि की जा रही है।

एलेन ने कहा कि हिरासत में लिया गया संदिग्ध डलास क्षेत्र का निवासी है जो अल पासो से करीब 1,046 किलोमीटर पूर्व में है। उन्होंने कहा कि प्रशासन उस पर हत्याओं के मामले दर्ज करने का प्रयास कर रहे हैं।

एलेन ने हालांकि संदिग्ध की पहचान नहीं की है लेकिन एक सरकारी सूत्र ने उसका नाम पेट्रिक क्रूसियस (patric crucius )बताया है।

बताया गया है कि क्रूसियस ने टेक्सास के मैक्किनी में कॉलिन कॉलेज में 2017 से 2019 तक पढ़ाई की है।

सीसीटीवी फुटेज और अमेरिकी मीडिया पर एक आदमी काली टी-शर्ट और इयर प्रोटेक्टर पहने हुए रायफल लहराता दिख रहा है, बताया जा रहा है कि ये तस्वीरें उसी बंदूकधारी की हैं।अल पासो पुलिस और फेडरल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन (FBI) जांच कर रहे हैं कि एक ऑनलाइन फोरम पर साझा किया गया अज्ञात श्वेत राष्ट्रवादी घोषणापत्र कहीं इसी बंदूकधारी ने तो नहीं लिखा है।

दस्तावेज में कहा गया कि हमले को स्थानीय हिस्पेनिक समुदाय पर निशाना बनाकर किया गया था।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस घटना की निंदा करते हुए इसे कायराना हरकत बताया है।अल पासो के पुलिस विभाग ने ट्वीट किया कि रक्तदान की तत्काल जरूरत है।शनिवार को हुई गोलीबारी की घटना को आधुनिक अमेरिकी इतिहास का आठवां सबसे घातक हमला माना जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here