यामी गौतम-गोरा रंग खूबसूरती का मापदंड नहीं रहा

0
17
यामी गौतम-गोरा रंग खूबसूरती का मापदंड नहीं रहा
गोरा रंग खूबसूरती का मापदंड नहीं रहा

अभिनेत्री यामी गौतम का मानना है कि अब गोरा रंग खूबसूरती का मापदंड नहीं रह गया हैं।

कई सालों से एक मशहूर फेयरनेस क्रीम ब्रांड के साथ काफी सालों से जुड़ीं बॉलीवुड अभिनेत्री यामी गौतम(Yami Gautam) कहना है कि उन्हें इस बात की खुशी है कि वक्त के साथ-साथ खूबसूरती की परिभाषा बदल गई है और अब गोरा रंग खूबसूरती का मापदंड नहीं रहा है। यामी की आगामी फिल्म ‘बाला’ भी खूबसूरती को संबोधित करती है

फिल्म वक्त से पहले गंजे हुए एक युवक और एक सांवली रंग की लड़की के इर्द-गिर्द घूमती है।

फिल्म के इन दोनों किरदारों को आयुष्मान खुराना और भूमि पेडनेकर ने निभाया है। यामी का कहना है कि “सोशल मीडिया और फिल्में उन्हीं चीजों को उजागर करती है जो सदियों से हमारे चारों ओर विद्यमान है। उस वक्त इन एड फिल्मों को बनाने की वजह भी यह थी। उस वक्त खूबसूरती की परिभाषा यह थी कि एक अच्छा दूल्हा और एक अच्छी नौकरी के लिए एक लड़की का गोरा होना जरूरी है। मुझे खुशी है कि वक्त बदल गया है और खूबसूरती की परिभाषा पर बातचीत शुरू हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here