खतरनाक साबित हो सकता है मुंहासे फोड़ना

0
16
Acne ,pimple

इंफेक्शन फैलने और पिंपल्स के बढ़ने का रहता है खतरा

मुंहासे यानी पिंपल्स की समस्या कई कारणों से हो सकती है।

आमतौर पर किशोरावस्था में हॉर्मोनल बदलावों के कारण, ब्यूटी प्रॉडक्ट्स के रिऐक्शन के कारण या प्रदूषण आदि के कारण पिंपल्स हो सकते हैं। चेहरे पर पिंपल होने पर अक्सर लोग कई गलतियां करते हैं, जिनके कारण इंफेक्शन फैलने और पिंपल्स के बढ़ने का खतरा बढ़ जाता है। अक्सर पिंपल होने पर लोग उसे बार-बार छूते हैं या साफ करने के लिए उसे फोड़ देते हैं, जो पूरी तरह से गलत है और खतरनाक भी साबित हो सकता है।

पिंपल को बार-बार छूने के पीछे साइकोलॉजी काम करती है।

अक्सर जब शरीर में कोई विकार होता है, तो अवचेतन में हम उसके बारे में चिंतित होते हैं। जैसे-चेहरे पर पिंपल होने पर बार-बार छूना, दांत में कोई चीज फंस जाने पर जीभ का बार-बार उस हिस्से में जाना या कहीं चोट लग जाने पर बार-बार उस चोट के आस-पास खरोंच लगना आदि।

पिंपल्स को बार-बार छूना खतरनाक हो सकता है।

पिंपल को पिचकाने या फोड़ने से इंफेक्शन हो जाने के खतरा होता है। कई बार गंभीर हो जाने पर पिंपल्स के कारण दर्द की समस्या भी हो जाती है। ऐसे में नारियल का तेल, ऐंटिसेप्टिक क्रीम या तुलसी और नीम के रस को इस पर हल्के हाथों से लगाएं। इन सभी में ऐंटिबैक्टीरियल गुण होते हैं। साथ ही ये दर्द और खुजली की समस्या को भी आसानी से खत्म कर देते हैं। दरअसल, छूने या फोड़ने से हाथों और हवा में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया त्वचा के अंदर प्रवेश कर जाते हैं, जहां संख्या बढ़ाकर ये बैक्टीरिया इंफेक्शन पैदा कर सकते हैं। कई बार ये इंफेक्शन इतना खतरनाक हो सकता है कि चेहरे को सर्जरी की जरूरत पड़े।