अंबानी प्रधानमंत्री के करीबी इसलिए उन्हें राफेल में कमीशन दिलाने की कोशिश की गई – प्रशांत भूषण

0
48
Anil Ambani

नई दिल्ली । वकील प्रशांत भूषण ने केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को लिखित शिकातयत में राफेल डील में घोटाले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, तत्कालीन रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर और कई अन्य के नाम दर्ज करवाए हैं। उन्होंने कहा कि यदि सीबीआई इस मामले की जांच नहीं करती है तो वह कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे।

मीडिया से बातचीत के दौरान प्रशांत भूषण ने रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण के फ्रांस दौरे पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस मामले को दबाने के लिए रक्षा मंत्री फ्रांस के दौरे पर गई हैं।

प्रशांत भूषण ने कहा कि अनिल अंबानी प्रधानमंत्री के करीबी हैं इसलिए उन्हें कमीशन दिलाने की कोशिश की गई। उन्होंने कहा कि रिलायंस को साझेदार बनाने के लिए सभी नियमों को ताक पर रख दिया गया, देश की सुरक्षा के साथ समझौता किया गया। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह भारत का सबसे बड़ा रक्षा घोटाला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here