नोटबंदी को कांग्रेस ने बताया, आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला

0
16
Congress has told demonetization

नई दिल्ली – कांग्रेस ने नोटबंदी के २ साल पूरा होने के मौके पर नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए दावा किया कि ८ नवंबर, २०१६ को उठाया गया कदम ‘आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला’ है। कांग्रेस पार्टी ने कहा कि अब नोटबंदी की जवाबदेही सुनिश्चित करने का समय आ गया है और प्रधानमंत्री को जिम्मेदारी स्वीकार करनी चाहिए।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्त रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि नोटबंदी आज़ादी के बाद सबसे बड़ा घोटाला है।

नोटबंदी से कालाधन रखने वालों की हुई ऐश, रातों रात ‘सफेद’ बनाया सारा कैश! न काला धन मिला, ना नक़ली नोट पकड़े गए, ना ही आतंकवाद व नक्सलवाद पर लगाम लगी। उन्होंने कहा कि १२० लोग मारे गए, अर्थव्यवस्था को ३ लाख करोड़ का नुकसान, लाखों नौकरियाँ गयी। मोदी जी, देशवासियों को अब तक ‘अर्थव्यवस्था तहस-नहस दिवस’ यानी नोटबंदी की दूसरी बरसी की बधाई नहीं दी? कोई विज्ञापन भी नहीं? आप भूल गए होंगे लेकिन देशवासियों को याद है। तैयार रहिए, पश्चात्ताप का समय अब दूर नहीं।

सुरजेवाला ने कहा कि जनता नोटबंदी का बदला भाजपा के खिलाफ़ वोट की चोट से लेगी। अब समय आ गया है कि प्रधानमंत्री मोदी इस तबाही की जिम्मेदारी लें, जिसके कारण आम जनता ने लगातार दर्द सहा। वक़्त आ गया है नोटबंदी की जवाबदेही सुनिश्चित करने का। वक़्त आ गया है नोटबंदी घोटाले की जाँच का, ताकि दोषी पकड़े जाएँ। देश कभी नहीं भूलेगा। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ८ नवंबर, २०१६ को नोटबंदी की घोषणा की जिसके तहत, उन दिनों चल रहे ५०० रु और १००० रु के नोट चलन से बाहर हो गए थे।