आंतकी संगठन का मुख्य ठिकाना था बालाकोट- एयरस्ट्राइक कर किया पूरी तरह तबाह

0
88
Destroyed completely by airtaking

पाकिस्तान स्थित बालाकोट में आतंकी गुट जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर हमला कर पुलवामा हमले का बदला ले लिया है। वायु सेना की कार्रवाई में आतंकवादी, प्रशिक्षक, शीर्ष कमांडर और जिहादी मारे गए है। वहीं भारतीय वायुसेना के प्रमुख बीएस धनोआ पहले ही एयर स्ट्राइक के बारे में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को जानकारी दे चुके थे।

सूत्रों के मुताबिक पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हमले के बाद 15 फरवरी को ही वायु सेना प्रमुख धनोआ ने एनएसए प्रमुख अजित डोभाल को आतंकी संगठनों के शिविरों पर स्ट्राइक की योजना के बारे में बताया था। कहा जा रहा है कि पुलवामा में भारतीय सुरक्षा बलों पर हमले की साजिश पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकियों ने तैयार की थी। बालाकोट में एयर स्ट्राइक की एक दूसरी वजह यह भी रही क्योंकि पाकिस्तान की सेना नियमित तौर पर इस इलाके में आतंकियों को प्रशिक्षित करती है ताकि भारत के खिलाफ हमला किया जा सके।

सूत्रों ने बताया कि बॉर्डर एक्शन टीम और पाकिस्तान की सेना आतंकियों को एलओसी पार करने के लिए बालाकोट में ही प्रशिक्षित करती रहती है।

बहरहाल सुरक्षा एजेंसिया इस बात का अंदाजा लगाने में जुटी हुई है कि भारतीय वायु सेना के हमले के बाद कितना नुकसान हुआ है। हालांकि सीमा पर अभी तक पाकिस्तान आर्मी की तरफ से कोई स्पेशल गतिविधि देखने को नहीं मिली है।

भारतीय वायु सेना की इस एयर स्ट्राइक में आतंकियों में जैश प्रमुख मसूद अजहर का बहनोई युसूफ अजहर शामिल है।

विदेश सचिव विजय गोखने ने बताया कि विश्वसनीय खुफिया जानकारी मिली थी कि 12 दिन पहले पुलवामा हमले को अंजाम देने के बाद जैश-ए-मोहम्मद भारत में एक और आत्मघाती आतंकी हमला करने की साजिश रच रहा है। उन्होंने कहा कि इस जानकारी के बाद सीमा के दूसरी ओर जैश ए मोहम्मद के सबसे बड़े आतंकी शिविर पर गैर-सैन्य एकतरफा हमले किए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here