पदक का रंग बदलने में कामयाब रहें – बजरंग पूनिया

0
31
asian games 2018 - Gold Medal
भारत के खाते में आया पहले स्वर्ण पदक

Gold Medal – रविवार को 18वें एशियन गेम्स में भारत को पहला स्वर्ण पदक मिला।

और ये पदक कोई और नहीं बल्कि भारतीय स्टार पहलवान बजरंग पूनिया ने भारत को दिलाया। बजरंग पूनिया देशवासियों की उम्मीदों पर खरा उतरे। और भारत के लिए पहला स्वर्ण पदक हासिल किया। वहीं इस से पहले पहलवान सुशील कुमार क्वालीफिकेशन राउंड में ही हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गए। जबकि अपूर्वी चंदेला और रवि कुमार की जोड़ी ने 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड टीम स्पर्धा में कांस्य पदक जीतकर कर टूर्नामेंट में भारत के पदकों का खाता खोला था।

इस से पहले बजरंग ने 2014 में रजत पदक जीता था। लेकिन इस बार वो अपने पदक का रंग बदलने में पूरी तरह से कामयाब रहें। और भारत की झोली में स्वर्ण पदक डाला। बजरंग ने 65 किग्रा फ्री स्टाइल में जापान के पहलवान ताकातानी दाइचि को 11-8 से हराते हुए स्वर्ण पदक जीता। बता दे कि सेमीफाइनल मुकाबले में बजरंग ने मंगोलिया के बाटमगनाई बैटचुलुन को 10-0 से मात देकर फाइनल में प्रवेश किया।

इस से पहले पूनिया ने क्वार्टर फाइनल मुकाबले में ताजिकिस्तान के फेजेव अब्दुलकासिम को 12-2 से मात दी। वहीं प्री-क्वार्टर फाइनल में उज्बेकिस्तान के पहलवान सिरोजिद्दीन खासानोव को 13-3 से हराया।

बजरंग पूनिया के स्वर्ण पदकलाने के पीछे सबसे अहम भूमिका अगर किसी की हैं। तो वो हैं उनका स्मार्टफोन। दरअसल पूनिया पूरा समय अपने फ़ोन पर दुनिया के बड़े पहलवानों के वीडियो देखते हैं और उनके हर पहलू पर पैनी नजर रखते हैं। उन्होंने अपने फ़ोन से ही पूरी तैयारी की। और स्वर्ण पदक अपने नाम कर देश का नाम रोशन करने में पूरी तरह से सफल रहें।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here