बीते 15 वर्ष में मध्यप्रदेश दुष्कर्म के मामलों में रहा नंबर एक – शोभा ओझा

0
18
Shobha Ahuja - M.P Rape Case
शोभा ओझा और भूपेंद्र गुप्ता का भाजपा सरकार पर वार

M.P Rape Cases – मध्यप्रदेश में बढ़ रहें दुष्कर्म के मामले में कांग्रेस ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया हैं।

साथ ही राजधानी भोपाल के एनजीओ की दुष्कर्म के मामले में संलिप्तता पर कांग्रेस ने भाजपा पर बड़ा हमला बोला है। प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा और उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता गुरुवार को मीडिया से बात – चीत के दौरान कहा की बेटियों के साथ मासूम बेटे भी शोषण के शिकार हो रहे हैं। भूपेंद्र गुप्ता ने भाजपा पर ज़ोरदार हमला बोलते हुए कहां की ज्यादातर मामलों में भाजपा से जुड़े लोगों के नाम हैं। राजधानी में पकड़े गए एनजीओ संचालक अश्विनी शर्मा भी भाजपा से जुड़े। साथ ही उन्होंने कहां की मप्र में संस्थाओं के भीतर हो रहे दुष्कर्म के मामले में शिवराज सरकार की खामोशी बताती है कि इन्हें सत्ता में बैठे लोगों का पोषण मिल रहा है।

वहीं दूसरी और शोभा ओझा ने भी भाजपा पर करारा निशाना साधा और बताया की साल 2004 से लेकर साल 2016 तक मप्र दुष्कर्म के मामलों में नंबर एक रहा।

बीते इन 15 वर्षो में मध्यप्रदेश में सबसे ज़्यदा दुष्कर्म के मामले सामने आए हैं। उन्होंने बताया की कुल 41 हजार 402 बेटियां दुष्कर्म की शिकार हुईं जबकि 60 हजार से छेड़छाड़ की गई हैं। मप्र की अदालतों में आज भी 85 हजार 383 मुकदमे महिलाओं के खिलाफ पेंडिंग हैं। समूचा विश्व आदिवासी दिवस मना रहा है और मप्र के बैतूल में दुष्कर्म के बाद आदिवासी युवती जहर खाकर जान दे रही है। भाजपा सरकार के शासनकाल में बच्चों से दुष्कर्म के मामलों में 532 प्रतिशत वृद्धि हुई। उन्होंने बताया की खजुराहो में 14 साल की बच्ची, सतना में 4 साल की बच्ची और मंदसौर में 8 वर्ष की बच्ची से ज्यादती की गई। जोकि बहुत ही दर्दनाक व गंभीर है। उन्होंने कहां की अब तो सुप्रीम कोर्ट भी मप्र पर टिप्पणी कर रहा है। शोभा ओझा ने कहां की इस बीच हैरान करने वाली बात है कि भोपाल के एनजीओ की करतूत की रिपोर्ट मासूम बेटियों को धार जाकर करानी पड़ी।