कार्यकर्ताओं की नारेबाज़ी की घटना, कमेटी करेगी जांच

0
110
kamalnath - M.P Samachar
कमलनाथ ने कार्यकर्ताओं के नारेबाज़ी की घटना को गंभीरता से लिया

M.P Samachar – प्रभारी महासचिव दीपक बाबरिया के विदिशा दौरे के दौरान कुछ कार्यकर्ताओं की नारेबाज़ी का मामला सामने आया हैं।

दरअसल विदिशा जिले में प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया और चिमन पटेल के सामने ही कांग्रेस कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए थे।बता दे की मंच साझा करने को लेकर यह विवाद हुआ था। प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया विदिशा में कांग्रेस कार्यालय में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रहे थे। इस दौरान मंच पर जगह को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में तकरार हुई। बाबरिया मंच से शांति बनाए रखने की अपील करते रहे लेकिन झगड़ा नहीं रुका। इस पुरे मामले को मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने गंभीरता से लिया हैं। साथ ही उन्होंने इस घटना को लेकर दो सदस्यीय जांच समिति का गठन किया हैं। जिसमें पीसी शर्मा व एड. साजिद अली को शामिल किया गया हैं। इन दोनों को आज शाम तक रिपोर्ट देने के लिये निर्देशित किया गया हैं। बताया जा रहा हैं की दोनों को मौक़े पर जाकर घटनाक्रम की पूरी वस्तुस्थिति की जानकारी लेकर सभी पक्षों से चर्चा कर एक रिपोर्ट तैयार करनी हैं।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से अनुशासन सीखना चाहिये ऐसा बाबरिया ने इस घटना के बाद कहा था।

बता दे की मीडिया के सवाल पर अपनी बात दुहराते हुए बाबरिया ने कहा ” आरएसएस की दुहाई क्योंकि दुनिया में वो जो अच्छा काम कर रहे हैं अनुशासन को लेकर, पंडित नेहरू ने चीन के साथ लड़ाई में उनका जो उपयोग किया था उसके बाद में भी, उनकी जो उपलब्धि है उसे सराहने में हमें कोई संकोच नहीं हैं। वहीं इससे पहले दीपक बावरिया के साथ रीवा में कथित रूप से पार्टी कार्यकर्ताओं का झगड़ा हो चूका हैं। जिसकी शिकायत राहुल गांधी तक से हुई थी। इस मामले में प्रदेश कांग्रेस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए छह कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पार्टी से निकाल दिया था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here