जानिए कलौंजी किस तरह हैं आपकी सेहत के लिए फायदेमंद

0
82
Benifits - Nigella Seeds
वज़न कम करने के साथ साथ कई चीज़ो में हैं मददगार कलौंजी
Breaking news

Nigella Seeds – कलौंजी आपकी सेहत के लिए काफी मददगार साबित हो सकती हैं।

कलौंजी में कई लवण और पोषक तत्व होते हैं।

कलौंजी में कई तरह के अमीनो एसिड और प्रोटीन भी पाए जाते हैं।

यह आयरन, सोडियम, कैल्शियम, पोटैशियम और फाइबर से भरपूर होती हैं।

कलौंजी के बीज आपकी सेहत को काफी फ़ायदा पंहुचा सकते हैं।

बता दे की कलौंजी के बीज आपके वज़न को कम करने में लाभगार साबित होती हैं।

कलौंजी के बीज

Nigella Seeds

ये छोटे छोटे बीज आपका बहुत बड़ा काम कर सकते हैं।

लेकिन ये छोटे बीज जभी काम करेंगे जब आप इसे सही तरीके से लेंगे।

बता दे की कलौंजी में मौजूदा गुणों की वजह से ये मसालों में सबसे हेल्दी मानी जाती है।

कलौंजी में काफी मात्रा में फाइबर होता हैं जो आपको ओवरवेट होने से बचा सकता हैं।

कलौंजी पेट की चर्बी को कम करने में मदद करती हैं।

खाने में महज एक चम्मच कलौंजी लेने से खाने के पोषक तत्वों में काफी बढोतरी की जा सकती हैं।

यहां जाने और फायदे, वा घरेलु नुस्खे

कलौंजी और नींबू

नींबू

एक कटोरी में कुछ कलौंजी के बीज लें और उसमें नींबू का रस ड़ालें।

रस इतना ड़ालें की कलौंजी के बीज इसमें डूब जाए।

अब इसे धूम में रख दें जब तक की कलौंजी के बीज सूख ना जाएं।

इसको सूखने में कम से कम दो दिन का समय लगेगा।

जैसे ही ये सुख जाए, उसके बाद आप इसको इस्तेमाल कर सकते हैं।

आप को रोज दिन में दो बार 8 से 10 बीज खाने होंगे।

हफ्ते भर के अंदर ही आप अपने पेट से कुछ वसा को कम होता हुआ महसूस करेंगे।

खाने में कलौंजी

खाने में कलौंजी

ग्रिल कर बनाई गई सब्जियों, चटनी और सलाद में कलौंजी को ड़ाल सकते हैं।

यह आपको हेल्थ बेनिफिट्स देगी।

सिर्फ एक चम्मच कलौंजी वजन कम करने के लिए आपको एक हेल्दी राह दे सकती हैं।

कलौंजी नींबू, पानी और शहद के साथ

शहद

अगर आपके पेट पर फैट जमा हैं, तो वो इसकी मदद से आसानी से कम हो जाएगा।

बस आपको एक नींबू का रस निकाल कर एक ग्लास गर्म पानी में ड़ालना होगा।

अब इसमें कुछ कुटे हुए कलौंजी के बीज ड़ालें।

एक बार में 3 या 4 ही लें। इससे ज्यादा आपके पेट को खराब कर सकते हैं।

अब इसमें एक चम्मच शहद ड़ाल दें और तुरंत पी लें।

ऐसा करने से आपके फैट से छुटकारा मिलेगा।

बरते ये सावधानी

बता दे की आपको इस दौरान सावधानी बरतनी होगी।

आप एक बार में 3 या 5 से ज्यादा बीजों का इस्तेमाल न करें।

यह पित्त दोष को पैदा कर सकते हैं।

इतना ही नहीं अगर गर्भवती महिलाओं भी इसका उपयोग कर रहीं हैं

तो उनको भी थोड़ा सावधान होना होगा।

क्योंकि अधिक मात्रा में इनका सेवन गर्भपात का कारण बन सकता हैं।

तो अगर आप ये कर रहीं हैं तो ज़रा संभल जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here