राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर लगाया आरोप, वहीं भजापा ने दिए इसके जवाब

0
61
Rahul Gandhi - Press Conference
चुनावी जंग को लेकर किये जा रहें हैं दोनों तरफ से वार

Press Conference – गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोलने के लिए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

जिसमें उन्होंने राफेल मुद्दे वा नोटबंदी के मुद्दे पर मोदी सरकार का घेराव किया। राहुल गांधी ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बात चीत करते हुए कहां की देश जानना चाहता हैं कि अनिल अंबानी और मोदी जी ने क्या डील की हैं? उन्होंने कहां की जो हवाई जहाज 520 करोड़ रुपए में मिल सकता हैं, उसके लिए आपने 1600 करोड़ रुपए की डील की। ये किसे फायदा पहुंचाने के लिए हुआ? इसके बाद राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर कहां की नोटबंदी गलती नहीं बल्कि एक बड़ा घोटाला है। इसके सबूत धीरे-धीरे ही बाहर आएंगे।’

राहुल ने कहा – जब सरकार ने नोटबंदी जैसी गलती की तो उसे माफी मांगनी चाहिए। नोटबंदी केवल एक गलती नहीं हैं। बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जानबूझकर भारत के लोगों पर किया गया हमला हैं। उन्होंने अपने 15-20 दोस्तों को फायदा पहुंचाने के लिए ऐसा किया। मोदी को इस बात का जवाब देना चाहिए कि नोटबंदी के बाद भी बेरोजगारी और देश की जीडीपी कम क्यों बनी हुई है?

उधर, भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा राहुल ने आज नोटबंदी के बारे में बातचीत की। आपने जो आरोप मोदी पर लगाए हैं।

आप वही आरोप पिछले तीन साल से लगा रहे हैं। उत्तरप्रदेश चुनाव के दौरान भी आप कहते थे कि देश की जनता को नोटबंदी से नुकसान हुआ। नुकसान अगर किसी को हुआ हैं तो वो कांग्रेस हैं। उन्होंने आगे कहां की उत्तरप्रदेश में कांग्रेस को केवल 7 सीटें मिली। राहुल जी इतने बड़े नुकसान के बाद भी आपका वहीं स्क्रिप्ट राइटर चल रहा हैं।

वहीं इस से पहले राहुल गांधी ने कहां की प्रधानमंत्री जी ने 15 लाख रुपए का वायदा किया।

उन्होंने किसानों को फसल का सही दाम देने का वायदा किया। जो प्रधानमंत्री कहते हैं, उसे हम गंभीरता से नहीं लेते। लेकिन वे अगर झूठ बोलते हैं तो हम उस झूठ को पकड़ते हैं। राहुल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा – मैंने अरुण जेटली जी के जरिए नरेंद्र मोदी जी को ऑप्शन दिया था। ऑप्शन यह था कि राफेल पर संयुक्त संसदीय समिति बना दीजिए। कांग्रेस पार्टी या विपक्ष को इस पर ऐतराज नहीं हैं। अरुण जेटली जी लंबे-लंबे ब्लॉग लिखते हैं, लेकिन 24 घंटे बीतने वाले हैं। जेपीसी पर वे कुछ नहीं बोल रहे। हालांकि, इजाजत तो नरेंद्र मोदी जी को देनी हैं। हो सकता है कि जेटली जी इतना घबराएं कि मोदी जी से सवाल ही नहीं पूछ पाएंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here