Aamir is in favor of protection of women

0
34
Amir khan

बॉलीवुड के परफेक्टनेस हीरो आमिर खान का कहना है कि ‘मीटू’ ने बॉलीवुड को एक अच्छा मौका दिया है जिसके जरिए महिलाओं की सुरक्षा के लिए कारगर कदम उठाए जा सकते हैं।

फिल्मी दुनिया में एक बड़ा बदलाव लाया जा सकता है। गौरतलब है कि जब से मीटू के तहत यौन उत्पीड़न के मामले उजागर होने शुरु हुए हैं तभी से आमिर ने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए खुद को जहां गुलशन कुमार की बायोपिक ‘मोगुल’ से अलग कर लिया तो वहीं उन्होंने कहा हे कि ‘हाल ही में किसी ने उनका ध्यान इस ओर दिलाया कि वो अपनी अगली फिल्म में जिसके साथ काम करने जा रहे हैं उस पर तो पहले से ही यूं भी यौन शोषण के आरोप लगते रहे हैं।

जांच के बाद पता चला कि ये केस कानून के अधीन हैं। बहरहाल हम कोई जांच एजेंसी नहीं हैं और ना ही हम किसी पर कोई जजमेंट ही दे सकते हैं, इसलिए हम बिना किसी को जज किए खुद को इस फिल्म से अलग कर रहे हैं। वैसे देखने वाली बात यह है कि आमिर ने अपने इस बयान में उस फिल्म का जिक्र ही नहीं किया जिससे वो खुद को अलग कर रहे हैं। यहां तक कि उन्होंने फिल्म के निर्देशक तक का नाम नहीं बताया।

इसलिए मोगुल से आमिर के खुद को अलग करने की बात जो की जा रही है वह महज कयास हैं, क्योंकि उन्होंने खुद कोई नाम नहीं लिया और न ही किसी को कुछ बताया है। अंतत: आमिर की यह बात स्वागतयोग्य है कि बॉलीवुड में महिलाओं की सुरक्षा के लिए आवश्यक कदम उठाए जाने चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here