क़ानूनी नोटिस भेज कर किया जाहिर, राफेल सौदे में कुछ तो हैं गड़बड़ – जयवीर शेरगिल

1
41
जयवीर शेरगिल - Congress Leader
राफेल सौदे को लेकर भेजा नोटिस

Congress Leader – राफेल सौदे को लेकर अभी भी लड़ाई जारी हैं। जहां एक तरफ राहुल गांधी पीएम मोदी समेत रिलायंस डिफेंस पर आरोप लगा रहें हैं।

वही दूसरी तरफ अनिल अंबानी पत्र लिख कर राहुल गांधी को उन आरोपों के जवाब दे रहें हैं। गौरतलब है कि बुधवार को अनिल धीरूभाई अंबानी समूह (ADAG) की कंपनी रिलायंस डिफेंस ने शेरगिल को कानूनी नोटिस भेजा। नोटिस में कहा गया हैं कि शेरगिल और कांग्रेस रिलायंस डिफेंस के बारे में ‘गलत जानकारियों’ को फैलाना बंद करें।

इस कानूनी नोटिस के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने कहा कि इस सौदे में कुछ तो गड़बड़ हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह का नोटिस भेजने से साफ जाहिर होता हैं की इस सौदे में कुछ घोटाला ज़रूर हैं। साथ ही उन्होंने कहां की अनिल अंबानी टैक्सपेयर की आवाज को दबा नहीं सकते।

शेरगिल ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किए गए एक वीडियो संदेश में कहा, ‘मुझे और पार्टी के अन्य कार्यकर्ताओं को भेजे जा रहे नोटिस यह बताने के लिए काफी हैं कि राफेल सौदे में कोई बड़ी समस्या हैं।

शेरगिल ने कहा, ‘यह लोकतंत्र है और हम तो सवाल पूछेंगे। सरकार को हमारे सवालों का जवाब देना होगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी और उनके समर्थक शर्मिंदा होने के लिए तैयार रहें। क्योंकि जल्दी ही इस घोटाले का उजागर करने के लिए कांग्रेस देश भर में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी।

उन्होंने कहां की बीजेपी और उनके समर्थकों को यह समझना होगा कि लोकतंत्र में ऐसे नोटिस भेजकर गंभीर सवालों पर मुंह बंद नहीं किया जा सकता। उसके बाद उन्होंने सवाल उठाया कि आखिर एनडीए सरकार ने एक सरकारी कंपनी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) से कॉन्ट्रैक्ट छीनकर अपने ‘दोस्तों’ को क्यों सौंप दिया। उन्होंने कहा कि टैक्सपेयर्स को यह जानने का अधिकार है कि एनडीए सरकार राफेल की खरीद पर 42,000 करोड़ रुपये ज्यादा क्यों खर्च कर रही है हैं।

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here