केरल के बिगड़े हालात, बाढ़ – भूस्खलन ने मचाई तबाही

0
15
rain - Keral Updates
अब तक 29 लोगों की मौत, 54,000 से ज्यादा लोग बेघर

Keral Updates – पिछले 48 घंटों से हो रही बरसात ने केरल में सारे बांध तोड़ दिए हैं।

लगातार हो रहीं बारिश से कई जगहों पर बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। केरल में हो रहीं मूसलाधार बारिश ने लोगों का जीना मुशिकल कर दिया हैं। बाढ़ और बरसात के पानी की वजह से जगह-जगह भूस्खलन की घटनाएं हो रही हैं। लबालब भर जाने के बाद इडुक्की डैम के दरवाजे खोल दिए गए जिसके बाद इसमें पानी के स्तर में कुछ कमी आई है और पानी का स्तर 2401.1 फीट तक पहुंच गया हैं। वहीं दूसरी तरफ राज्य में मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और कई मंत्रियों सहित विपक्षी दल के नेताओं ने इडुक्की, वायनाड, कलीकट और कोच्चि का हवाई दौरा किया। साथ ही गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी 12 अगस्त रविवार को केरल का दौरा करेंगे।

कई राज्यों में रेड अलर्ट

Keral Rain

लगातार हो रहीं बारिश के बाद मौसम विभाग ने हालात और बिगड़ने की आशंका जताई हैं। साथ ही कोट्टायम, एर्नाकुलम, मलप्पुरम, पलक्कड़, कोझिकोडे में 11 अगस्त तक हाई अलर्ट जारी किया गया है। वहीं इडुक्की में 13 अगस्त तक के लिए चेतावनी जारी की गई हैं। जबकि वायनाड में 14 अगस्त तक रेड अलर्ट जारी किया गया हैं।

बीते 50 वर्ष में सबसे ज़्यदा बारिश

Keral Rain

पहली बार बारिश से इतनी भीषण तबाही हुई हैं। इस से पहले 50 वर्ष पहले ऐसी बारिश हुई थीं। आसमानी आफत ने केरल की तस्वीर ही बदल दी हैं। जहां नज़र पड़ रहीं हैं उस तरफ पानी दिखाई दे रहा हा। भारी बारिश और डैम से छोड़े गए पानी के चलते नदी नालों में उफान आ गया हैं। हालांकि हर तरफ सेना के जवानों को मोके पर तैनात किया गया हैं। जबकि बचाव के लिए 241 रिलीफ कैंप खोले गए हैं। बता दे की अब तक हुई इस बारिश में 29 लोग अपनी जान गवा चुके हैं। जबकि 54,000 से ज्यादा लोग बेघर हुए हैं।

स्कूल-कॉलेज बंद

Keral Rain

केरल में मची इस तबाही से इमरजेंसी लग गई है। स्कूल, कॉलेज, दफ्तर सब बंद कर दिए गए हैं। इस ही बीच ख़राब खबर ये हैं की मौसम विभाग ने केरल में अभी और ज्यादा बरसात का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक केरल में इस साल अबतक औसत से 19 फीसदी ज्यादा बरसात हो चुकी हैं। केरल में इससे पहले इतनी ज्यादा 2013 में हुई थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here